Apple Vision Pro हो गया हैक, मिली ये खामी


Apple द्वारा Apple Vision Pro पेश करने के बाद एक सिक्योरिटी संबंधित खामी सामने आई है। माइक्रोआर्किटेक्चर सिक्योरिटी में एक्सपर्टीज के साथ MIT के पीएचडी स्टूडेंट जोसेफ रविचंद्रन ने डिवाइस के ऑपरेटिंग सिस्टम visionOS में एक अहम कर्नेल खामी की पहचान की है। यह खामी संभावित तौर पर जेलब्रेकिंग (निर्माता द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों को हटाने के लिए मोडिफाई करना) और इस नए हार्डवेयर का लाभ लेने के लिए डिजाइन किए गए गलत सॉफ्टवेयर बनाने में मदद कर सकती है।

Apple Vision Pro की कीमत

Apple Vision Pro की यूएसए में शुरुआती कीमत $3,499 (लगभग 2,90,520 रुपये) है। Apple Vision Pro को इस हफ्ते की शुरुआत में अमेरिका में लॉन्च किया गया था। इस डिवाइस के प्री-ऑर्डर 19 जनवरी, 2024 से शुरू हो गए हैं।

Apple Vision Pro में खामी

जोसेफ रविचंद्रन ने ट्वीट्स की एक सीरीज पोस्ट करते हुए X पर अपने निष्कर्ष शेयर किए, जिसमें कर्नेल खामी पर Apple Vision Pro की रिस्पॉन्स वाली फोटो शामिल थीं। खामी के बाद डिवाइस “पर्सपेक्टिव मोड” में चला जाता है और यूजर्स को रिस्टार्ट की तैयारी के लिए हेडसेट हटाने का इंस्ट्रेक्शन देता है, जो 30 सेकंड के अंदर होने वाला है।

इस रिस्टार्ट के बाद रविचंद्रन ने एक इमरजेंसी लॉग को हाइलाइट किया जो कर्नेल क्रैश का इशारा देता है। इसके अलावा उन्होंने Vision Pro Crasher नाम का एक कस्टम एप्लिकेशन दिखाया, जिसमें हेडसेट आइकन वाला स्कल और क्रैश माई विजन प्रो लेबल वाला एक बटन शामिल था। नए हार्डवेयर आने पर अक्सर सिक्योरिटी रिसर्चर उनकी टेस्टिंग करने के लिए उत्सुक रहते हैं। आईफोन को जेलब्रेक करने की तरह रविचंद्रन का कदम Vision Pro इकोसिस्टम के लिए संभावित सिक्योरिटी संबंधित दिक्कतों को उजागर करता है।

Apple का इतिहास रहा है कि वह सिक्योरिटी खामियों को तेजी से ठीक करने का प्रयास करता है, खासकर Vision Pro जैसे हाई-प्रोफाइल प्रोडक्ट्स के मामले में यह और भी तेज होगा। इसके अलावा रविचंद्रन ने यह पुष्टि नहीं की है कि उन्होंने Apple को अपने निष्कर्ष प्रस्तुत किए हैं। हालांकि कंपनी का सिक्योरिटी बाउंटी प्रोग्राम इस तरह के खुलासों को प्रोत्साहित कर सकता है। Vision Pro का क्रमिक रोलआउट टेक्नोलॉजी को शुरुआत दौर में आने वाले को प्रभावित कर सकता है, जिससे बड़े स्तर पर दिक्कत की संभावना कम हो जाती है। इसके अलावा Apple किसी भी जोखिम को कम करते हुए तेजी से अपडेट में खामी को ठीक करने का प्रयास करेगा।
   

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें





Source link