यहां देखें, ISRO द्वारा की जा रही 36 ब्रिटिश सैटेलाइट्स की LIVE लॉन्चिंग


Isro Oneweb Satellites: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने शनिवार को ब्रिटेन स्थित कंपनी वनवेब के 36 उपग्रहों को ले जाने वाले अपने एलवीएम3 रॉकेट के प्रक्षेपण के लिए उलटी गिनती शुरू कर दी है।

India

oi-Sanjeev Kumar

loading

Google Oneindia News
loading
Isro to Launch 36 Oneweb Satellites

Isro
Oneweb
Satellites
Launching:
इसरो
कल
यानी
26
मार्च
को
फिर
से
इतिहास
रचने
जा
रहा
है।
दरअसल,
इसरो
इस
रविवार
को
श्रीहरिकोटा
से
एलवीएम3
रॉकेट
से
ब्रिटिश
कंपनी
वनवेब
के
36
उपग्रहों
की
दूसरी
खेप
का
प्रक्षेपण
करने
जा
रहा
है।
ISRO
लॉन्च
व्हीकल
मार्क
III
(LVM3)
का
उपयोग
करके
संचार
कंपनी
के
लिए
36
उपग्रह
लॉन्च
कर
रहा
है,
जो
श्रीहरिकोटा
में
सतीश
धवन
अंतरिक्ष
केंद्र
से
सुबह
9
बजे
IST
से
प्रक्षेपित
होगा।
वनवेब
इंडिया-2
मिशन
निम्न-पृथ्वी
कक्षा
(एलईओ)
में
वनवेब
के
इंटरनेट
उपलब्ध
कराने
वाले
उपग्रहों
की
संख्या
को
बढ़ाकर
616
कर
देगा।


इसरो
सैटेलाइट
लॉन्च
को
लाइव
कहां
देखें?

लाइव
स्ट्रीमिंग
शुरू
होने
पर
आप
इसरो
(ISRO)
के
आधिकारिक
YouTube
चैनल
पर
जाकर
मिशन
की
शुरुआत
देख
सकते
हैं।
इसरो
के
मुताबिक
इसकी
लॉन्चिंग
सुबह
9
बजे
होगी
लेकिन
30
मिनट
पहले
यानी
सुबह
8:30
बजे
वेबकास्ट
शुरू
हो
जाएगा।
इच्छुक
दर्शक
लाइव
देखने
के
लिए
इसरो
की
आधिकारिक
वेबसाइट
या
फेसबुक
और
ट्विटर
हैंडल
पर
भी
जा
सकते
हैं।


क्या
है
इस
मिशन
का
मकसद

इस
मिशन
का
मकसद
उन
इलाकों
में
शहरों
से
गांवों
तक
सैटेलाइट
के
जरिए
इंटरनेट
मुहैया
कराना
है,
जहां
लोग
अभी
भी
कनेक्टिविटी
की
समस्या
से
जूझ
रहे
हैं।
वनवेब
ने
कई
देशों
में
अपनी
सर्विस
लॉन्च
की
है।
इनमें
अलास्का,
कनाडा
और
यूरोप
के
क्षेत्र
शामिल
हैं।
रविवार
को
यदि
इसके
सफल
प्रक्षेपण
से
इसरो
की
क्षमता
दुनिया
के
सामने
और
मजबूत
होगी
और
यह
अंतरिक्ष
प्रक्षेपण
की
दिशा
में
तेजी
से
आगे
बढ़ेगा।


पिछले
साल
अक्टूबर
में
भी
36
सैटेलाइट्स
अंतरिक्ष
भेजे
गए

भारती
एंटरप्राइजेज
कंपनी
ने
भी
ब्रिटिश
कंपनी
वनवेब
को
वित्तीय
सहायता
दी
है।
भारत
सरकार
ने
ISRO
की
वाणिज्यिक
शाखा
के
रूप
में
NSIL
का
गठन
किया
है।
NSIL
ने
वनवेब
के
साथ
1,000
करोड़
रुपये
से
अधिक
का
अनुबंध
किया
था,
जिसके
तहत
72
उपग्रहों
को
दो
दौर
में
अंतरिक्ष
में
भेजा
जाना
था।
पिछले
साल
अक्टूबर
में
श्रीहरिकोटा
से
ही
36
वनवेब
उपग्रहों
का
एक
बैच
लॉन्च
किया
गया
था।

English summary

ISRO begins countdown for launch of LVM3 rocket carrying OneWeb satellites



Source link