Nuclear at Belarus: व्लादिमीर पुतिन का ऐलान, बेलारूस में परमाणु हथियार करेंगे तैनात


Nuclear at Belarus: व्लादिमीर पुतिन ने शनिवार को बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि वह बेलारूस में टैक्टिकल परमाणु हथियार को तैनात करने जा रहे हैं। उन्होंने अमेरिका का हवाला देते हुए कहा कि वह कई दशकों से ऐसा करता आ रहा है।

International

oi-Ankur Singh

loading

Google Oneindia News
loading
vladimir putin


Nuclear
at
Belarus:

रूस
और
यूक्रेन
के
बीच
चल
रहे
युद्ध
को
अब
एक
साल
से
भी
अधिक
का
समय
हो
गया
है।
लेकिन
अभी
भी
दोनों
देशों
के
बीच
चल
रहा
युद्ध
खत्म
नहीं
हुआ
और
ना
ही
इसके
खत्म
होने
के
हाल-फिलहाल
में
आसार
नजर

रहे
हैं।
रूस
के
राष्ट्रपति
व्लादिमीर
पुतिन
ने
इस
बीच
बड़ा
ऐलान
किया
है।
पुतिन
ने
कहा
कि
वह
बेलारूस
में
टैक्टिकल
परमाणु
हथियार
को
तैनात
करेंगे।
इसके
साथ
ही
पुतिन
ने
कहा
कि
उनका
यह
फैसला
परमाणु
अप्रसार
समझौते
का
उल्लंघन
नहीं
करता
है,
क्योंकि
अमेरिका
ने
यूरोप
में
ऐसे
हथियार
स्टेशन
कर
रखे
हैं।
पुतिन
ने
यह
भी
साफ
किया
है
कि
वह
इन
हथियारों
का
नियंत्रण
बेलारूस
के
हाथ
में
नहीं
देंगे।

इसे भी पढ़ें- लाल ग्रह से दिखी विचित्र आकृति, क्या यही हैं मंगल के बादल? साइंटिस्ट्स भी हैरानइसे
भी
पढ़ें-
लाल
ग्रह
से
दिखी
विचित्र
आकृति,
क्या
यही
हैं
मंगल
के
बादल?
साइंटिस्ट्स
भी
हैरान

राष्ट्रपति
पुतिन
ने
कहा
कि
बेलारूस
के
नेता
एलेक्जेंडर
लुकाशेंको
लंबे
समय
से
बेलारूस
में
टैक्टिकल
हथियार
को
तैनात
करने
की
मांग
उठाते
रहे
हैं।
पुतिन
ने
कहा
कि
टैक्टिकल
परमाणु
हथियार
तैनात
करने
में
कुछ
भी
असामान्य
नहीं
है।
पहली
बात
तो
यह
कि
अमेरिका
कई
दशकों
से
यह
करता

रहा
है।
अमेरिका
ने
लंबे
समय
से
परमाणु
हथियारों
को
अपने
मित्र
देशों
की
सीमा
पर
तैनात
कर
रखा
है।
पुतिन
ने
कहा
कि
1
जुलाई
तक
रूस
बेलारूस
में
टैक्टिकल
परमाणु
हथियार
को
स्टोर
करने
की
जगह
को
तैयार
कर
लेगा।
परमाणु
हथियार
को
लॉन्च
करने
के
लिए
छोटी
संख्या
में
स्कैंडर
टैक्टिकल
मिसाइल
सिस्टम
को
यहां
पर
तैनात
किया
जाएगा,
जिसे
पहले
ही
बेलारूस
भेजा
जा
चुका
है।

हालांकि
पुतिन
ने
यह
स्पष्ट
नहीं
किया
कि
हथियार
बेलारूस
कब
भेजे
जाएंगे।
गौर
करने
वाली
बात
है
कि
1990
के
बाद
ऐसा
पहली
बार
है
कि
रूस
देश
से
बाहर
परमाणु
हथियार
को
तैनात
करने
जा
रहा
है।
1991
में
सोवियत
यूनियन
के
खत्म
होने
के
बाद
परमाणु
हथियारों
को
मुख्य
रूप
से
रूस,
यूक्रेन,
बेलारूस
और
कजाकिस्तान
में
तैनात
थे,
लेकिन
1996
तक
इन
सभी
परमाणु
हथियारों
को
रूस
में
शिफ्ट
कर
दिया
गया
था।
दरअसल
जिस
तरह
से
यूक्रेन
के
राष्ट्रपति
वोलोदिमीर
जेलेंस्की
ने
पश्चिम
देशों
से
और
सैन्य
मदद
की
अपील
की
है,
उसके
बाद
पुतिन
ने
यह
बड़ा
ऐलान
किया
है।

  • loading
    पुतिन ने ब्रिटेन पर लगाया यूक्रेन को खतरनाक हथियार देने का आरोप, जिनपिंग के सामने दे दी चेतावनी
  • loading
    पुतिन-जिनपिंग के ज्वाइंट स्टेटमेंट से भारत को 2 बड़े झटके, रूस के साथ हो गई खराब संबंधों की शुरूआत?
  • loading
    पुतिन ने कहा, ‘पश्चिमी देश चाहें तो ख़त्म हो सकता है युद्ध’, क्या बोले शी जिनपिंग?
  • loading
    यूक्रेन युद्ध की आग में घी डालता चीन, रूस को बेच रहा खतरनाक ड्रोन्स, जानिए कितने करोड़ के बेचे हथियार?
  • loading
    रूस-चीन में कभी नहीं देखी गई है ऐसी दोस्ती, क्या शांतिदूत बनकर भारत से बड़ा मौका छीन लेंगे शी जिनपिंग?
  • loading
    यूरोपीय ‘भीख’ के लिए रूस से गद्दारी, यूक्रेन को 44 T-80UD टैंक भेजेगा पाकिस्तान, पुतिन रोकेंगे तेल सौदा?
  • loading
    Jinping और Putin के बीच आज होगी ऑफिशियल बातचीत, अमेरिका ने कहा- चीन अपने प्रभाव का करे इस्तेमाल
  • loading
    भारत से अचानक यूक्रेन क्यों निकल गए जापानी पीएम? ट्रेन पकड़कर पहुंचे कीव, जेलेंस्की से करेंगे मुलाकात
  • loading
    xi jinping russia visit: मास्को पहुंचे शी जिनपिंग, पुतिन से बोले- चीन के यूक्रेन पीस प्लान पर चर्चा करेंगे
  • loading
    रूस के पास नहीं बचा विकल्प, माननी होगी चीन की शर्त.. शी जिनपिंग से मिलने से पहले पुतिन की मजबूरी जानिए
  • loading
    यूक्रेन की जंग के बीच पुतिन और शी जिनपिंग मॉस्को की मुलाक़ात से क्या चाहते हैं
  • loading
    International Criminal Court: क्या है अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय जिसने पुतिन के खिलाफ जारी किया वारंट

English summary

Russia President Vladimir Putin announces to deploy tactical nuclear weapon in Belarus



Source link