Earth Hour Day: अक्षरधाम मंदिर, छत्रपति शिवाजी टर्मिनल, हावड़ा ब्रिज पर बंद हुई लाइट, जानिए वजह



temple 1679758823


Earth
Hour
Day:

दुनियाभर
में
हर
साल
की
तरह
इस
साल
भी
एक
घंटे
के
लिए
अर्थ
आवर
डे
मनाया
गया।
इस
दौरान
एक
घंटे
के
लिए
लाइट
को
बंद
करने
की
अपील
की
गई।
इस
कार्यक्रम
को
हर
साल
वर्ल्ड
वाइड
फंड
फॉर
नेचर
की
ओर
से
आयोजित
किया
जाता
है।
अर्थ
आवर
डे
हर
साल
मार्च
माह
के
आखिरी
शनिवार
को
मनाया
जाता
है।
इस
दिन
रात
8.30
बजे
से
9.30
बजे
तक
लोगों
से
अपनी
स्वेच्छा
से
लाइट
को
बंद
करने
के
लिए
कहा
जाता
है।
इसक
कार्यक्रम
का
मकसद
धरती
को
बेहत
करने
के
लिए
लोगों
को
एकजुटता
का
संदेश
देना
है।

अर्थ
आवर
डे
के
मौके
पर
दिल्ली
स्थित
अक्षरधाम
मंदिर
की
लाइट
को
एक
घंटे
के
लिए
बुझा
दिया
गया।
मंदिर
परिसर
में
तमाम
लाइटों
को
बंद
कर
दिया
गया
और
सिर्फ
कुछ
जरूरी
ही
लाइटों
को
जलाया
गया।
वहीं
मुंबई
स्थित
छत्रपति
शिवाजी
महाराज
टर्मिनस
पर
भी
लाइटों
को
डिम
कर
दिया
गया।
कोलकाता
के
ऐतिहासिक
हावड़ा
ब्रिज
पर
भी
लाइट
को
डिम
कर
दिया
गया
और
कई
लाइटों
को
बंद
कर
दिया
गया।

बता
दें
कि
पिछले
साल
एक
घंटे
लाइट
बंद
करके
171
मेगावॉट
बिजली
दिल्ली
में
बचाई
गई
थी।
अर्थ
आवर
डे
की
शुरुआत
31
मार्च
2007
को
ऑस्ट्रेलिया
के
सिडनी
में
हुई
थी।
बाद
में
इसे
धीरे-धीरे
पूरी
दुनिया
में
मनाया
जाने
लगा।
दुनियाभर
के
देशों
ने
इसे
अपना
समर्थन
दिया
और
यह
एक
बड़ा
अभियान
बन
गया।
हर
साल
मार्च
माह
के
आखिरी
शनिवार
को
रात
8.30
से
9.30
के
बीच
बिजली
के
बल्बों
को
बंद
कर
दिया
जाता
है।
इस
मुहिम
को
भारत
समेत
171
देशों
का
समर्थन
प्राप्त
है।



Source link