1 फरवरी से IMPS ट्रांसफर, NPS विड्रॉल से लेकर LPG के दाम तक, होने जा रहे हैं ये बड़े बदलाव


फरवरी की पहली तारीख से नागरिकों के लिए कुछ बड़े बदलाव होने जा रहे हैं, जिनमें से एक IMPS से संबंधित है। 1 फरवरी को अंतरिम बजट पेश होने जा रहा है, जिसके साथ आपकी IMPS की लिमिट भी बढ़ने जा रही है। जी हां, कल, यानी फरवरी की पहली तारीख से आप IMPS के जरिए किसी खाते पर पहले से ज्यादा पैसे ट्रांसफर कर सकेंगे। इसके साथ ही कुछ अन्य बदलाव भी होने जा रहे हैं, जैसे NPS विड्रॉल से संबंधित बदलाव और पेट्रोल-डीजल, LPG की कीमतों में बदलाव।

अगर आप ऑनलाइन ट्रांसजेक्शन करते हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है। कल, यानी 1 फरवरी से आप अपने बैंक के ऐप में बेनिफिशरी अकाउंट को जोड़े बिना ही IMPS के जरिये उसमें 5 लाख रुपये तक ट्रांसफर कर सकते हैं। NPCI ने 31 अक्टूबर को एक सर्कुलर जारी करके इस बात की जानकारी दी थी, जिसमें कहा गया था कि IMPS से संबंधित ये नियम 1 फरवरी, 2024 से लागू होगा। 

बता दें कि IMPS एक 24×7 क्विक फंड ट्रांसफर सिस्टम है, जो घरेलू लेनदेन के लिए बनाया गया है। इस ऑनलाइन बैंक अकाउंट ट्रांसफर सिस्टम के आने के बाद, RTGS जैसे ट्रांसफर की तुलना में ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर करना काफी तेज हो गया था।

इसके अलावा, नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) ने बिना केवाईसी वाले फास्टैग को ब्लैकलिस्ट या डिएक्टिवेट करने की घोषणा की है। ऐसे में अगर आपने अभी तक अपने फास्टैग का केवाईसी अपडेट नहीं किया है तो आपको इस काम को तुरंत करा लेना चाहिए। KYC नहीं करने पर आपको 1 फरवरी से दोगुना टोल टैक्स देना पड़ेगा।

पेंशन फंड नियामक और विकास प्राधिकरण (PFRDA) ने 12 जनवरी, 2024 को एक सर्कुलर जारी करते हुए नेशनल पेंशन सिस्टम (National Pension System) से जुड़े नियमों में बदलाव करने की घोषणा की थी। इसके तहत 1 फरवरी से एनपीएस अकाउंटहोल्डर्स को एम्प्लॉयर कंट्रीब्यूशन को छोड़कर जमा राशि का केवल 25 फीसदी रकम निकालने की अनुमति होगी।

1 फरवरी से पेट्रोल-डीजल और LPG सिलेंडर की कीमतों में बदलाव किया जाएगा। लंबे समय से तेल कंपनियों ने राष्ट्रीय स्तर पर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया था। इस बार बजट को लेकर आम लोगों को उम्मीदें हैं कि सरकार पेट्रोल-डीजल सहित LPG की कीमतों में राहत दे सकती है।



Source link