डोमेस्टिक क्रिकेट क्यों है महत्वपूर्ण? सचिन तेंदुलकर की भारतीय खिलाड़ियों को बड़ी सीख – India TV Hindi


Ranji Trophy 2024- India TV Hindi

Image Source : PTI
रणजी ट्रॉफी 2024

भारतीय क्रिकेट में पिछले काफी समय से डोमेस्टिक क्रिकेट के महत्व को लेकर चर्चा देखने को मिल रही है, जिसमें अब महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने भी अपनी राय ट्वीट के जरिए रखी है। सचिन के अनुसार इंटरनेशनल क्रिकेट में खेलने वाले खिलाड़ियों को डोमेस्टिक क्रिकेट खेलना चाहिए। इससे उन्हें अपनी बेसिक चीजों को सुधारने का भी मौका मिलता है। सचिन ने इस दौरान ये भी बताया कि उन्हें जब भी मौका मिलता था तो वह मुंबई के लिए डोमेस्टिक क्रिकेट खेलने का मौका नहीं छोड़ते थे। बता दें हाल में ही बीसीसीआई ने सालाना प्लेयर्स सेंट्रल कॉन्ट्रेक्ट में श्रेयस अय्यर और इशान किशन को बाहर कर दिया गया।

मैं मुंबई के लिए खेलने को लेकर उत्सुक रहता था

सचिन तेंदुलकर ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर ट्वीट करते हुए लिखा कि मुझे अपने पूरे क्रिकेट करियर के दौरान जब भी डोमेस्टिक क्रिकेट में मुंबई की तरफ से खेलने का मौका मिला तो मैं उसको लेकर काफी उत्सुक रहता था। एक समय मुंबई की टीम में 7 से 8 ऐसे खिलाड़ी मौजूद थे जो भारतीय टीम की तरफ से भी खेल रहे थे। इंटरनेशनल क्रिकेट में खेलने वाले खिलाड़ी जब घरेलू क्रिकेट में खेलते हैं तो उसे वहां मौजूद युवा खिलाड़ियों की क्वालिटी बेहतर होने के साथ नई प्रतिभा की भी पहचान होती है और उन्हें इस खेल से जुड़ी कभी-कभी बेसिक चीजों के बारे में भी जानने का मौका मिलता है।

वहीं सचिन ने अपने इस ट्वीट में डोमेस्टिक क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए भारतीय बोर्ड की भी तारीफ की जिसमें उन्होंने लिखा कि घरेलू क्रिकेट में बड़े खिलाड़ियों के खेलने से फैंस भी अपनी टीमों का उत्साह बढ़ाने के साथ उन्हें अधिक फॉलो करना शुरू कर देंगे। ये काफी अच्छी बात है कि BCCI घरेलू क्रिकेट को प्राथमिकता दे रहा है।

फाइनल में पहुंचने पर मुंबई को दी बधाई

रणजी ट्रॉफी के मौजूदा सीजन के दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में मुंबई की टीम ने तमिलनाडु के खिलाफ पारी और 70 रनों से जीत हासिल करते हुए फाइनल में अपनी जगह को पक्का कर लिया है। सचिन ने मुंबई की टीम को बधाई दी और इस मैच को लेकर लिखा कि मुंबई की टीम ने शानदार तरीके से मुकाबले में वापसी करते हुए फाइनल में अपनी जगह को पक्का किया। वहीं दूसरा सेमीफाइनल आखिरी दिन तक आ गया है जिसमें मध्य प्रदेश को अभी जीत के लिए 90 से अधिक रन चाहिए और उनके पास सिर्फ 4 विकेट बचे हैं।

ये भी पढ़ें

PSL Points Table: रिजवान की टीम ने प्लेऑफ के लिए किया क्वालीफाई, बाबर-अफरीदी की टीम के लिए फंसा पेंच

WPL 2024: दिल्ली कैपिटल्स ने लगाया जीत का चौका, चेज करते हुए पहली बार हारी मुंबई इंडियंस

Latest Cricket News





Source link