क्या बन रही है जीनत अमान की बायोपिक? एक्ट्रेस ने बताई इसकी सच्चाई, कहा- 'मेरी जिंदगी में बहुत सारे रहस्य हैं जो…'


Zeenat Aman: बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री की दिग्गज अदाकारा जीनत अमान अपने वक्त टॉट एक्ट्रेसेस में शुमार थीं। वो न सिर्फ अपनी एक्टिंग बल्कि अपनी खूबसूरती के लिए भी जानी जाती थीं। अपने करियर में जीनत के कई सुपरहिट फिल्में दी हैं। वो प्रोफेशनल लाइफ के साथ अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर भी खूब सुर्खियों में रहीं। आज भी जीनत आए दिन अपनी निजी जिंदगी को लेकर खबरों में छाई रहती हैं। जीनत ने साल भर पहले इंस्टाग्राम पर डेब्यू किया था, जिसके बाद से वो अक्सर अपने चाहने वालों के साथ सोशल मीडिया पर कभी अपनी तस्वीरों तो कभी पुराने किस्सों को शेयर करती रहती हैं। इसी बीच जीनत ने एक बार फिर से अपनी एक तस्वीर शेयर करते हुए, अपनी बायोपिक को लेकर खुलकर बात की है।

जीनत ने बताया क्या बनेंगी उनकी बायोपिक या नहीं?

जीनत अमान ने अपने मंगलवार को अपने इंस्टाग्राम पर एक लंबा-चौड़ा पोस्ट किया है। इस पोस्ट के साथ जीनत ने अपनी बायोपिक बनने की चल रही चर्चाओं का सच बताया। उन्होंने अपनी एक ब्लैक एंड व्हाइट तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, ‘हो सकता है कि आप इसे एक बूढ़ी औरत की शिकायत बोलकर इसे खारिज कर दें, लेकिन मेरी राय में, मुझे शामिल किए बिना मेरे बारे में बायोपिक बनाना मूर्खता होगी। बिल्कुल स्पष्ट रूप से, कोई भी मुझे उस तरह नहीं जानता, जिस तरह से मैं खुद को जानती हूं। इसलिए इस संबंध में कोई भी शोध मेरे इनपुट के बिना अधूरा, यहां तक ये पूरी तरह से (त्रुटिपूर्ण) अर्थात सही होगा। मैं शर्त लगाती हूं कि मेरे बारे में सार्वजनिक डोमेन में उपलब्ध प्रत्येक तथ्य के लिए सैकड़ों और तथ्य हैं जो केवल सिर्फ मुझे पता हैं।’

‘मेरे बारे में बहुत सारे रहस्य हैं जो…’

जीनत ने आगे लिखा, ‘यहां बहुत सारी बातें मेरे बारे में मौजूद हैं, बहुत सारे रहस्य हैं जो मेरी इतने सालों की जर्नी को समझने के लिए बहुत जरूरी है। ओह, यह वास्तव में एक बेहद दिलचस्प जीवन रहा है। मैं इस बात पर भी कोई आपत्ति नहीं करूंगी कि मैं अजनबियों की ओर से बनाई और बताई जा रही मेरी ही कहानियों से सावधान हूं। खासकर पुरुष ‘सेक्स सिंबल’ टैग को हिलाना असंभव है (मेरा विश्वास करो, इसे 50 साल हो गए हैं) और गलत कहानीकार के हाथों में यह भद्दी ताक-झांक और अनुमान के काम में बदल सकता है। मैं केवल “साहसी महिलाओं” की रूढ़िवादिता से अवगत हूं और मैं निश्चित रूप से पीड़ित नहीं हूं। संभावित बायोपिक को लेकर मेरी बात हुई है और मैं खुद धीरे-धीरे इस विचार पर विचार कर रही हूं। क्या ऐसा होगा? कौन जानता है? मेरी बायोपिक के लिए एक संवेदनशील निर्देशक, एक बहादुर लेखक, एक बेदाग कलाकार की आवश्यकता होगी…!’



Source link