पीएम मोदी बोले- ग्रीन इनर्जी सोर्स निजी क्षेत्र के लिए सोने की खान से कम नहीं, उज्‍जवल भविष्‍य की आधारशिला है


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय बजट के बाद आयोजित वेबिनार में ग्रीन इनर्जी सोर्सस को भाारत के निजी क्षेत्र के लिए सोने की खान जैसा बताया। उन्‍होंने कहा इस क्षेत्र में आने वाले दिनों में अपाार नौकरियों की संभावना…

India

oi-Bhavna Pandey

Z

Google Oneindia News
loading
pm

प्रधानमंत्री
नरेंद्र
मोदी
ने
गुरुवार
को
बजट
के
बाद
पहले
वेबिनार
को
संबोधित
किया
जिसमें
उन्‍होंने
हरित
ऊर्जा
स्रोत
के
विकास
पर
बात
करते
हुए
इसके
फायदे
बताए।
पीएम
मोदी
ने
कहा
भारत
की
सौर,
पवन
और
बायोगैस
क्षमता
भारत
के
निजी
क्षेत्र
के
लिए
“सोने
की
खान
या
तेल
क्षेत्र”
से
कम
नहीं
है।

बजट
के
बाद
12
वेबिनार
आयोजित
किए
जा
रहे

बता
दें
केंद्रीय
बजट
में
घोषित
पहलों
के
प्रभावी
तरीके
से
लागू
करने
के
लिए
विचारों
और
सुझाव
को
प्रात्‍त
करने
के
लिए
बजट
के
बाद
12
वेबिनार
सीरीज
आयोजित
की
जा
रही
है।
इस
सीरीज
के
पहले
वेबिनार
को
गुरुवार
पीएम
मोदी
ने
संबोधित
किया।
हरित
विकास
केंद्रीय
बजट
2023-24
की
सात
शीर्ष
प्राथमिकताओं
में
से
एक
है।

इसमें
रोजगार
सृजित
करने
की
अपार
क्षमता
है

इस
पर
ही
बात
करते
हुए
पीएम
मोदी
ने
कहा
भारत
के
निजी
क्षेत्र
के
लिए
सौर,
पवन
और
बायोगैस
क्षमता
सोने
की
खान
या
तेल
क्षेत्र
से
कम
नहीं
है।
उन्‍होंने
कहा
इन
नवीकरणीय
स्रोतों
में
बड़ी
संख्या
में
हरित
रोजगार
सृजित
करने
की
विशाल
क्षमता
है।

मोदी
सरकार
तीन
लाख
वाहनों
को
स्‍क्रैप
करेगी

पीएम
मोदी
ने
बताया
कि
भारत
की
वाहन
स्क्रैपिंग
नीति
भारत
की
हरित
विकास
रणनीति
का
एक
महत्वपूर्ण
हिस्सा
है।
उन्‍होंने
कहा
हम
तीन
लाख
से
अधिक
वाहनों
को
स्क्रैप
करने
जा
रहे
हैं।
यह
बजट
भारत
के
भविष्य
की
सुरक्षा
का
अवसर
है।
मोदी
ने
कहा,
हमें
बजट
नीतियों
को
लागू
करने
के
लिए
सामूहिक
रूप
से
और
तेजी
से
काम
करने
की
जरूरत
है।

आने
वाली
पीढि़यों
के
लिए
उज्‍जवल
भविष्‍य
की
आधारशिला
है

मोदी
ने
कहा
कि
2023-24
का
केंद्रीय
बजट
भारत
को
वैश्विक
हरित
ऊर्जा
बाजार
में
मास्‍टर
प्‍लेयर
बनने
में
मदद
करने
में
में
अहम
भूमिका
निभाएगा।
प्रधानमंत्री
ने
कहा
हरित
विकास
को
लेकर
इस
साल
के
बजट
में
किए
गए
प्रावधान
एक
तरह
से
हमारी
आने
वाली
पीढ़ियों
के
उज्जवल
भविष्य
की
आधारशिला
हैं।

जानें
क्‍या-क्‍या
है
शामिल

बता
दें
केंद्र
के
बजट
में
विभिन्न
क्षेत्रों
और
मंत्रालयों
में
कई
प्रोजेक्‍ट
और
पहलों
की
परिकल्पना
की
गई
है

हरित
हाइड्रोजन
मिशन,
ऊर्जा
संक्रमण,
ऊर्जा
भंडारण
परियोजनाएं,
नवीकरणीय
ऊर्जा
निकासी,
हरित
ऋण
कार्यक्रम,
पीएम-प्राणम,
गोबरधन
योजना,
भारतीय
प्राकृतिक
खेती
जैव-इनपुट
संसाधन
केंद्र,
मिष्टी,
अमृत
धरोहर,Coastal
Shipping
और
Vehicle
Replacement
शामिल
है।

कांंग्रेस के वरिष्‍ठ नेता पवन खेड़ा को असम पुलिस ने दिल्‍ली एयरपोर्ट पर फ्लाइट से उतरवाया और किया अरेस्‍टकांंग्रेस
के
वरिष्‍ठ
नेता
पवन
खेड़ा
को
असम
पुलिस
ने
दिल्‍ली
एयरपोर्ट
पर
फ्लाइट
से
उतरवाया
और
किया
अरेस्‍ट

Recommended
Video

hqdefault

Congress
नेता
Pawan
Khera
ने
Bail
मिलने
पर
सरकार
को
ऐसे
घसीटा..
?
|
Supreme
Court
|
वनइंडिया
हिंदी

English summary

PM Modi said – Green energy source is no less than a gold mine for the private sector, it is the cornerstone of a bright future



Source link