ये चार बातें अगर आपके अंदर भी है तो समझ जाइए मेंटली फिट नहीं हैं आप



<p style="text-align: justify;"><strong>Mental Health Checklist:</strong> एक स्वस्थ जीवन जीने के लिए आपको शारीरिक रूप से मजबूत होने के साथ-साथ मानसिक रूप से भी स्वस्थ होना जरूरी होता है. यही वजह है कि हाल के दिनों में मेंटल हेल्थ को लेकर जागरूकता काफी बढ़ी है. लेकिन कुछ ऐसे भी लोग हैं जो मानसिक परेशानी से जूझ रहे हैं. हालांकि इस बात की उन्हें खबर तक नहीं होती और यह समस्या बढ़ती चली जाती है. ऐसे में अगर आपको खुद के मेंटल हेल्थ के बारे में जानना है तो हम यहां पर आपको कुछ बातें बता रहे हैं. अगर वो चार बातें आपके अंदर भी हैं या आप ऐसा सोचते हैं तो समझ जाइए कि आप का मेंटल हेल्थ ठीक नहीं है आइए जानते हैं इस बारे में विस्तार से</p>
<h3 style="text-align: justify;"><strong>मेंटली फिट ना होने की निशानियां</strong></h3>
<p style="text-align: justify;"><strong>1. </strong>अगर आपको यह चेक करना है कि आपका मेंटल हेल्थ ठीक है या नहीं तो आप खुद से ये सवाल करें कि क्या आप अपने फाइनेंस को लेकर परेशान रहते हैं? जब भी अकेले बैठेते हैं तो कहीं आप ये तो नहीं सोचते कि पैसा कहां से आएगा? किस-किस को पैसा वापस करना है. या और पैसा कैसे कमाया जाए. अगर आप ऐसा सोचते हैं तो समझ जाइए आपका मेंटल हेल्थ ठीक नहीं है.क्योंकि जब आप अर्थिक तौर पर स्टेबल नहीं होते हैं तो आपको मानसिक तनाव या परेशानी हो जाती है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>2. </strong>कई बार जरूरत से ज्यादा हेल्थ कॉन्शियस होना भी आपके मेंटल हेल्थ की खराब स्थिति को दर्शाता है. ऐसे में आप ये खुद से सवाल करें कि कहीं आप भी अपने हेल्थ को लेकर ज्यादा कॉन्शियस तो नहीं. अगर फिर भी इसका जवाब ना मिले तो आप अपने रोजाना के शेड्यूल पर ध्यान दें. अगर आप जरूरत से ज्यादा सेल्फ केयर करते हैं. एक्सरसाइज करते हैं या आप खुद को ओवरबूस्ट करते हैं तो समझ जाइए कि आप बहुत ज्यादा फिक्र मंद है. ये एक खराब मेंटल हेल्थ की तरफ इशारा है. अक्सर मेंटली फिट ना रहने पर ऐसा वहम होता है कि आप कितना भी कुछ कर ले आपको फायदा नहीं पहुंच रहा है. लेकिन एक बात जान लें,सेल्फ केयर की भी एक सीमा होती है जरूरत से ज्यादा केयर आप को नुकसान पहुंचा सकता है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>3. </strong>मी टाइम निकालना भी जरूरी होता है.खुद से बातें करना, खुद के हॉबीज को स्पेस देना जरूरी होता है.लेकिन दिन में अगर आप एक घंटा भी अपने लिए टाइम नहीं निकालते हैं तो ये सही नहीं हैं. क्योंकि ऐसा तब होता है जब आप मेंटली फिट नहीं रहते हैं और आपके ऊपर काम का प्रेशर बहुत ज्यादा रहता है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>4.</strong>अगर आप भी बैठे-बैठे यह सोचते रहते हैं कि आप की अभी की जिंदगी इतनी अच्छी नहीं है जितनी पास्ट लाइफ अच्छी थी तो समझ जाइए कि आप मानसिक तौर पर फिट नहीं है. आप सुकून नहीं महसूस करते हैं.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों और सुझाव पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें.</strong></p>
<div dir="auto" style="text-align: justify;"><strong>यह भी पढ़ें: </strong><strong><a title="एक को देखकर दूसरे को भी उबासी क्यों आने लगती है? आज जानिए क्या है इसका जवाब" href="https://www.abplive.com/lifestyle/health/what-to-know-about-yawning-you-may-not-notice-2404245/amp.." target="_self">एक को देखकर दूसरे को भी उबासी क्यों आने लगती है? आज जानिए क्या है इसका जवाब</a></strong></div>



Source link