आसमान में फिल्म स्टूडियो… चांद पर पहली बार महिला… यह साल होगा बेमिसाल


हाइलाइट्स

साल 2024 में होने वाले ओलंपिक का आयोजन इस बार फ्रांस की राजधानी पेरिस में होने वाला है.
यूरोप का पहला एक्सा-स्केल सुपर कंप्यूटर इस साल लॉन्च होने वाला है.

नई दिल्लीः नए साल का आगमन हो चुका है. एक-दूसरे को नए साल की बधाई दी जा रही है. हर कोई ये नया साल बेहतर होने की उम्मीद कर रहा है. हालांकि दुनिया के लिए साल 2024 बहुत खास होने वाला है. हर क्षेत्र में इस साल कुछ बड़ा होने वाला है. नए साल में अंतरिक्ष में फिल्म स्टूडियो देखने को मिलेगा. वहीं ऐसी दवा आने वाली है, जिससे कुपोषण खत्म हो सकता है. आइए जानतें हैं इस साल क्या-क्या बड़े आयोजन और फैसले होंगे, जिससे आम लोगों के जीवन पर भी प्रभाव पड़ेगा.

कुपोषण खत्म करने वाली दवा
इस साल दुनिया को कुपोषण खत्म करने वाली दवा मिल सकती है. दरअसल, बिल गेट्स फाउंडेश एक दवा पर काम कर रही है, जो कि कुपोषण खत्म कर देगी. इस दवा का फिलहाल स्टेज-3 का ट्रायल चल रहा है. वहीं WHO की तरफ से 2024 में इस दवा को इस्तेमाल करने की इजाजत मिल गई है. रिपोर्ट के मुताबिक भारत में 4 मिलियन से ज्यादा बच्चे कुपोषण का शिकार हैं. इस दवा से भारत को भी फायदा होगा.

चांद पर फिर जाएगा इंसान
अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा 2024 में अपने 4 अंतरिक्ष यात्रियों को चांद पर भेजेगा. बता दें कि इससे पहले साल 1972 में Apollo-17 मिशन के तहत दो अंतरिक्ष यात्रियों को चांद पर भेजा था. अब करीब 52 साल बाद फिर इंसानों को भेजा जाएगा. ये चारों एस्ट्रोनॉट्स चांद के चारों ओर चक्कर लगाकर धरती से वापस आ जाएंगे.

महिलाएं भी चर्चा में होंगी प्रीस्ट
साल 2024 में केनन लॉ में बड़े बदलाव की संभावना है, जिसके तहत चर्च में महिलाओं के प्रीस्ट बनने की संभावना बढ़ सकती है. दरअसल, बड़ी संख्या में कैथोलिक महिलाओं को प्रीस्ट नहीं बनने देना चाहते हैं. बता दें कि केनन लॉ के तहत कैथोलिक चर्च का काम चलता है. नए साल में मिनिस्ट्री में महिलाओं के लिए पद पर पोप फ्रांसिस अंतिम फैसला ले सकते हैं. समलैंगिक विवाह को लेकर भी पोप फ्रांसिस कोई फैसला ले सकता है. सायनॉड ऑन सॉलिडैरिटी का आखिरी सत्र इस साल के अक्टूबर महीने में होगा. इसका उद्देश्य कैथोलिक नियमों में सुधार करना है.

चांद पर जाएगी महिला
इस साल चांद पर काफी फोकस किया जाएगा. विक्टर ग्लोवर चांद पर जाने वाले पहले अश्वेत शख्स होंगे. इसके अलावा चांद पर जाने वाली पहली महिला क्रिस्टियाना कोच बनने जा रही हैं. क्रिस्टियाना कोच को मिशन स्पेशलिस्ट माना जाता है.

जूपिटर के मून पर जीवन की तलाश
जूपिटर के मून यानि यूरोपा पर जीवन की तलाश के लिए इस साल मिशन की शुरुआत होगी. उम्मीद जताई जाती रही है कि यूरोपा पर जीवन संभव है, यहां ऊर्जा और पानी के प्राकृतिक स्त्रोत मिल सकते हैं. नासा अक्टूबर 2024 में क्लीपर स्पेसक्राफ्ट लॉन्च करने की तैयारी है. दरअसल अनुमान जताया जा रहा है कि यूरोपा पर जो एनर्जी के सोर्स हैं, वो 400 करोड़ साल तक खत्म नहीं होंगे.

स्पेस में फिल्म स्टूडियो
साल 2024 दुनिया के लिए अंतरिक्ष का क्षेत्र काफी अहम होने वाला है. इस वर्ष अंतरिक्ष में फिल्म स्टूडियो देखने को मिलेगा, जिसका नाम SEE-1 होगा. इस साल दिसंबर के महीने में इस स्टूडियो के तैयार होने की उम्मीद है. इसके बाद स्टूडियो में काम शुरू हो जाएगा.

फ्रांस में 100 साल बाद ओलंपिक
साल 2024 में होने वाले ओलंपिक का आयोजन इस बार फ्रांस की राजधानी पेरिस में होने वाला है. इससे पहले साल 1924 में फ्रांस में ओलंपिक का आयोजन किया था. पेरिस ओलंपिक में 32 खेलों को शामिल किया गया है, जिसकी 306 प्रतियोगिताएं होंगी. इसके अलावा पेरिस ओलंपिक में पहली बार ब्रेक डांस की प्रतियोगिताएं भी देखने को मिलेंगी.

सुपर कंप्यूटर की लॉन्चिंग
यूरोप का पहला एक्सा-स्केल सुपर कंप्यूटर इस साल लॉन्च होने वाला है. जर्मनी के जुलिच शहर के नेशनल रिसर्च इंस्टिट्यूट में इस सुपर कंप्यूटर को लगाया जाएगा. इस सुपर कंप्यूटर हर सेकंड 10 टु द पॉवर ऑफ 18 तक कैलकुलेशंस कर सकते हैं.

आसमान में फिल्म स्टूडियो... चांद पर पहली बार महिला... यह साल होगा बेमिसाल, 2024 में बहुत कुछ होगा नया

दुनिया का सबसे बड़े स्पेसक्राफ्ट
अबतक का सबसे पड़ा स्पेसक्राफ्ट Clipper मिशन के लिए बनाया जा रहा है. इस स्पेसक्राफ्ट का वजन बिना ईंधन में 3241 किलोग्राम होगा. इस स्पेसक्राफ्ट की लंबाई एक बास्केटबॉल कोर्ट जितनी यानि 30 मीटर होगी. इस स्पेसक्राफ्ट पर 24 इंजन होंगे.

Tags: Nasa, Olympics 2024



Source link