टेस्ट डेब्यू पर देवदत्त पडिक्कल का बड़ा खुलासा, बताया कब पता चला भारत के लिए खेलना है मुकाबला – India TV Hindi


Devdutt Padikkal- India TV Hindi

Image Source : GETTY
Devdutt Padikkal

IND vs ENG: भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवें टेस्ट मैच में टीम इंडिया काफी मजबूत स्थिति में है। भारतीय टीम ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक 8 विकेट खोकर 473 रन बना लिए हैं। वहीं टीम इंडिया के पास 255 रनों की लीड भी हासिल है। इस मुकाबले में भारतीय बल्लेबाजों ने दमदार प्रदर्शन किया और टीम इंडिया ने टॉप 5 बल्लेबाजों ने 50+ का स्कोर बनाया। इस दौरान भारत की ओर से देवदत्त पडिक्कल ने अपना टेस्ट डेब्यू किया। उन्होंने अपने डेब्यू मैच पर ही शानदार पारी खेली और सभी को अपनी बल्लेबाजी से इंप्रेस किया। मैच के बाद उन्होंने एक बड़ा खुलासा किया है और बताया है उन्हें कब पता चला कि उन्हें डेब्यू करने का मौका मिल रहा है।

मैच के बाद क्या बोले पडिक्कल ?

भारत के लिए डेब्यू मैच पर देवदत्त पडिक्कल ने 103 गेंदों पर 65 रनों की पारी खेली। उन्होंने इस मुकाबले के बाद डेब्यू पर पूछे गए सवाल पर कहा कि वह बस तैयार रहना चाहते थे, उन्हें पिछले दिन मैसेज मिला कि संभावना है कि वह खेल सकते हैं। ऐसे मौके काफी कम मिलते हैं और वह इस चुनौती के लिए तैयार थे। उन्होंने कहा कि वह मैदान में जाते हुए थोड़े घबराए हुए थे, लेकिन वह यह सुनिश्चित करना चाहते थे कि वह उस एनर्जी का इस्तेमाल सही तरीके से करना चाहते थे। 

पडिक्कल ने आगे कहा कि जब मैं बल्लेबाजी के लिए उतरा तब शुरुआत में यह थोड़ा चुनौतीपूर्ण था। लेकिन मैं अपना सिर झुकाकर सरफराज के साथ साझेदारी बनाना चाहता था। अपनी पहली टेस्ट कैप हासिल करना यह एक खास एहसास है। चाहे परिस्थितियां कुछ भी हों, उस सपने में जीना कुछ विशेष है। बल्लेबाजी करते समय शुरुआत में मैं आगे बढ़ने को लेकर थोड़ा असमंजस में था, लेकिन एक बार जब मेरी नजर जम गई तो मेरे लिए यह काफी आसान हो गया। पिडक्कल के अलावा इस मुकाबले में शुभमन गिल ने भी शानदार बल्लेबाजी उन्होंने भी अपने शतक पर कई बातें कही है।

शुभमन गिल ने कही ये बात

इंग्लैंड के खिलाफ शतक जड़ने के बाद शुभमन गिल ने अपने पिता के बारे में बात करते हुए कहा कि यह मेरे लिए पहली बार था कि वह मुझे किसी इंटरनेशनल  मैच में खेलते हुए देख रहे थे। वह चाहते थे कि मैं टेस्ट क्रिकेट में हिस्सा लूं और मुझे उम्मीद है कि आज उन्हें मेरे प्रयास पर गर्व होगा। एंडरसन के खिलाफ लगाए गए छक्के के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि मुझे लगा कि गेंद उस समय ज्यादा कुछ नहीं कर रही थी और सहज रूप से मैं टॉप पर जाना चाहता था और उन पर कुछ दबाव बनाना चाहता था।

यह भी पढ़ें

100वें टेस्ट पर अश्विन के नाम अनचाहा रिकॉर्ड, 14 भारतीय खिलाड़ियों में सिर्फ तीन ही हुए डक पर आउट

Devdutt Padikkal: इसे कहते हैं टेस्ट डेब्यू! पडिक्कल ने इंग्लैंड के खिलाफ दिखाया गजब का दम

Latest Cricket News





Source link