पुलिस सुरक्षा में पिरान कलियर दरगाह में नमाज पढ़ेगी हिंदू महिला, कोर्ट ने दी इजाजत


Piran Kaliyar, Piran Kaliyar News, Piran Kaliyar Hindu Woman- India TV Hindi

Image Source : FILE
हाई कोर्ट ने महिला को पिरान कलियर दरगाह में नमाज पढ़ने की इजाजत दे दी है।

नैनीताल: उत्तराखंड हाई कोर्ट ने गुरुवार को एक हिंदू महिला को हरिद्वार जिले में स्थित पिरान कलियर शरीफ दरगाह में नमाज पढ़ने की इजाजत दे दी। महिला ने कोर्ट में याचिका दाखिल की थी कि वह पिरान कलियर दरगाह से बहुत प्रभावित है और वहां प्रार्थना करना चाहती है। कोर्ट ने महिला को नमाज पढ़ने की इजाजत देने के साथ ही पुलिस को महिला को सुरक्षा प्रदान करने के निर्देश भी दिए हैं। हाई कोर्ट ने महिला से दरगाह में प्रार्थना करने से पहले अपनी सुरक्षा के लिए क्षेत्र के पुलिस थानाधिकारी को एक पत्र देने को कहा है। इस मामले की अगली सुनवाई अब 22 मई को होगी।

महिला ने अदालत को बताया क्यों पढ़ना चाहती है नमाज

इससे पहले जस्टिस मनोज कुमार तिवारी और जस्टिस पंकज पुरोहित की बेंच ने जानना चाहा था कि अपना धर्म न बदलने वाली हिंदू याचिकाकर्ता पिरान कलियर में नमाज क्यों पढ़ना चाहती है। महिला ने अदालत के सामने साफ किया कि वह पिरान कलियर से बहुत प्रभावित है और इसी के चलते वहां नमाज पढ़ना चाहती थी। महिला ने कहा कि उसे दरगाह में नमाज पढ़ने की इजाजत नहीं दी गयी। महिला ने कहा कि उसे कट्टरवादी संगठनों से खतरा है और वह बिना किसी भय या दबाव के दरगाह में नमाज पढ़ना चाहती है।

13वीं शताब्दी के सूफी संत की दरगाह है कलियर शरीफ
मामला मध्य प्रदेश के नीमच की रहने वाली 22 वर्षीय अवि​वाहित हिंदू महिला से जुड़ा है जिसने पिरान कलियर में नमाज पढ़ने की इजाजत लेने के लिए याचिका दायर की है और धार्मिक संगठनों से खतरे को देखते हुए सुरक्षा की गुहार लगायी है। याचिका में हिंदू धर्म को मानने वाली महिला ने पिरान कलियर में बिना भय, वित्तीय लाभ, धमकी या दवाब के प्रार्थना करने की इच्छा जाहिर की है। बता दें कि पिरान कलियर शरीफ 13वीं शताब्दी के चिश्ती मत के सूफी संत की दरगाह है। इस दरगाह में काफी दूर-दूर से, यहां तक कि विदेशों से भी बड़ी संख्या में जायरीन आते हैं।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन





Source link