केरल के गर्वनर खान ने 9 यूनिवर्सिटी के VC से मांगा इस्तीफा, सुबह 11:30 बजे तक का अल्टीमेटम

arif mohammad khan 1 1666547817


Kerala Governor Arif Mohammad Khan- India TV Hindi News

Image Source : FILE PHOTO
Kerala Governor Arif Mohammad Khan

Highlights

  • सभी नौ कुलपतियों से अपने-अपने पदों से इस्तीफा देने को कहा
  • सोमवार सुबह 11.30 बजे से पहले अपना इस्तीफा देने को कहा है
  • पांच कुलपतियों को पैनल नामों के बिना चुना गया था: राज्यपाल

Kerala News: केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने एक अभूतपूर्व कदम उठाते हुए राज्य के सभी नौ कुलपतियों से अपने-अपने पदों से इस्तीफा देने को कहा है। सुप्रीम कोर्ट की ओर से केरल तकनीकी विश्वविद्यालय के कुलपति के इस्तीफे का आदेश देने के बाद राज्यपाल ने कालीकट, संस्कृत, केटीयू, सीयूएसएटी, मत्स्य पालन, मलयालम, एमजी, कन्नूर और चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपतियों को सोमवार सुबह 11.30 बजे से पहले अपना इस्तीफा देने को कहा है।

राज्यपाल के कार्यालय ने कहा कि कुलपति के चयन के दौरान पांच कुलपतियों को पैनल नामों के बिना चुना गया था और राजनीतिक रूप से चुना गया था। बाकी चार का चयन एक प्रक्रिया के माध्यम से किया गया था, जिसमें प्रख्यात विषय विशेषज्ञ चयन समिति में मौजूद नहीं थे। 

राज्यपाल के इस कदम का विरोध करेंगे: माकपा 

आदेश पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए माकपा के राज्य सचिव एमवी गोविंदन ने अलाप्पुझा में मीडियाकर्मियों से कहा कि पार्टी और सरकार, राज्यपाल के इस कदम का विरोध करेंगे, जो संविधान विरोधी था। उन्होंने कहा कि बीजेपी और आरएसएस, जो सीधे सत्ता में नहीं आ पा रहे हैं, राज्य में सत्ता पर काबिज होने के लिए बैकरूम पैंतरेबाजी कर रहे हैं।

राज्यपाल का पागलपन भरा फैसला है: माकपा

गोविंदन ने कहा कि यह राज्यपाल का पागलपन भरा फैसला है और हम इसके खिलाफ कानूनी विकल्पों सहित सभी उपाय करेंगे। सरकार के सूत्रों ने बताया कि राज्य का उच्च शिक्षा विभाग भविष्य की कार्रवाई पर फैसला करने के लिए एक बैठक कर रहा है। विभाग के अधिकारियों ने कहा कि सरकार कुलपतियों को राज्यपाल के निर्देश का जवाब नहीं देने का निर्देश दे सकती है।

मुस्लिम लीग के नेता और राज्य के पूर्व शिक्षा मंत्री ईटी मोहम्मद बशीर ने मीडियाकर्मियों से कहा कि राज्यपाल का फैसला गलत है। उन्होंने कहा कि राज्यपाल के पास ऐसी विवेकाधीन शक्तियां नहीं हैं। माकपा पोलित ब्यूरो सदस्य एमए बेबी, जो राज्य के पूर्व शिक्षा मंत्री भी हैं, उन्होंने मीडियाकर्मियों को बताया कि केरल के राज्यपाल केंद्र सरकार के कर्मचारी की तरह काम कर रहे हैं।

Latest India News





Source link