सावधान! 31 जनवरी से बंद हो जाएंगे बिना KYC वाले FASTags, ऐसे पूरी करें वेरिफिकेशन


भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने घोषणा की है कि वह उन फास्टैग (FASTags) को निष्क्रिय कर देगा जिनके लिए नो योर कस्टमर (KYC) नहीं किया गया है। इसके लिए समय सीमा 31 जनवरी रखी गई है। यह ‘एक वाहन, एक फास्टैग’ पहल का हिस्सा है, जिसका उद्देश्य कई वाहनों के लिए सिंगल फास्टैग या एक ही वाहन में कई इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन टूल्स को जोड़ने के उपयोग को खत्म करना है। FASTag वाहनों के लिए एक प्री-पेड टैग है, जो टोल प्लाजा पर कैश देकर टोल पार करने के झंझट को खत्म करता है। इस टैग को वाहन की विंडशील्ड पर लगाया जाता है, जिसे टोल पर लगे कैमरा सिस्टम द्वारा डिटेक्ट किया जाता है और टोल के पैसे सीधा उस वाहन के फास्टैग से लिंक हुए अकाउंट से कट जाते हैं। 

राजमार्ग प्राधिकरण ने घोषणा की है कि बिना KYC वाले FASTags को 31 जनवरी से निष्क्रिय कर दिया जाएगा। अपने बयान में प्राधिकरण ने कहा कि इसके लिए समय सीमा 31 जनवरी है और यह ‘एक वाहन, एक फास्टैग’ पहल का हिस्सा है। इसके अलावा, यह भी कहा गया है कि असुविधा से बचने के लिए यूजर्स को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनके लेटेस्ट FASTag का KYC पूरा हो गया है।

बयान में कहा गया है, ” पिछले टैग 31 जनवरी 2024 के बाद निष्क्रिय/ब्लैकलिस्ट कर दिए जाएंगे और केवल लेटेस्ट FASTag अकाउंट एक्टिव रहेंगे।”

प्राधिकरण ने यह भी कहा कि उसने यह पहल तब की जब उसे पता चला कि एक विशेष वाहन के लिए एक से अधिक फास्टैग जारी किए गए हैं और आरबीआई के आदेश का उल्लंघन करते हुए KYC के बिना FASTags जारी किए जा रहे हैं।

NHAI ने यह भी कहा कि फास्टैग को कभी-कभी जानबूझकर वाहन की विंडस्क्रीन पर नहीं लगाया जाता है, जिसके चलते टोल प्लाजा पर अनावश्यक देरी होती है और राष्ट्रीय राजमार्गों का उपयोग करने वाले लोगों को असुविधा होती है।

जैसा कि हमने बताया, FASTag वाहनों के लिए एक प्री-पेड टैग है जो टोल प्लाजा पर इंतजार किए बिना, तुरंत प्लाजा पार करने की सुविधा देता है। ये टैग रेडियो-फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन या आरएफआईडी तकनीक का उपयोग करता है और टोल फीस की स्वचालित कटौती को सक्षम बनाता है।
 

अपने फास्टैग स्टेटस को कैसे जांचे?

आप अपने फास्टैग स्टेटस को जांचने के लिए https://fastag.ihmcl.com पर जा सकते हैं।
यहां लॉग-इन करने के लिए FASTag के लिए रजिस्टर किए मोबाइल नंबर और पासवर्ड जैसी डिटेल्स डालें और OTP के जरिए वैरिफाई करें।
लॉग-इन करने के बाद, डैशबोर्ड पर जाएं, जहां “My Profile” सेक्शन पर क्लिक करना होगा।
यहां आपको अपने FASTag का KYC स्टेटस दिखाई देगा।
 

अब यदि KYC पेंडिंग है, तो क्या करें?

प्रोफाइल सेक्शन में KYC नाम का एक सब-सेक्शन उपलब्ध है, जो आपको अपने केवाईसी को अपडेट करने का ऑप्शन देगा।
आपको मांगे गए पहचान और पते के प्रमाण डॉक्यूमेंट सबमिट करने होंगे और कुछ अन्य जानकारियों को भरना होगा। यहां आपको एक पासपोर्ट साइज फोटो भी अपलोड करना होगा।
अब सबमिट पर क्लिक करने से पहले, भरी गई जानकारियों की जांच और पुष्टि करनी होगी।
‘Proceed’ पर क्लिक करने के बाद जरूरी दस्तावेज जमा कर KYC वेरिफिकेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।



Source link