WPL 2024: गुजरात जायंट्स को टूर्नामेंट से पहले हुआ नुकसान, अब नहीं खेल पाएगी ये महंगी खिलाड़ी – WPL 2024 Gujarat Giants suffered loss before the tournament now this expensive player will not be able to play


महिला प्रीमियर लीग 2024 शुरू होने से ही गुजरात जायंट्स को नुकसान हो गया है। उनकी ऑलराउंडर काशवी गौतम चोट लगने की वजह से टूर्नामेंट नहीं खेल पाएंगी।

By Anurag Mishra

Publish Date: Mon, 19 Feb 2024 08:31 PM (IST)

Updated Date: Mon, 19 Feb 2024 08:32 PM (IST)

WPL 2024: गुजरात जायंट्स को टूर्नामेंट से पहले हुआ नुकसान, अब नहीं खेल पाएगी ये महंगी खिलाड़ी
गुजरात जायंट्स को लगा झटका।

खेल डेस्क, इंदौर। महिला प्रीमियर लीग 2024 शुरू होने से ही गुजरात जायंट्स को नुकसान हो गया है। उनकी ऑलराउंडर काशवी गौतम चोट लगने की वजह से टूर्नामेंट नहीं खेल पाएंगी।

डब्‍ल्‍यूपीएल 2024 की नीलामी में गुजराय जायंट्स ने काशवी गौतम पर 2 करोड़ का दांव लगाया था। वह इस रकम के साथ डब्‍ल्‍यूपीएल 2024 टूर्नामेंट की सबसे महंगी अनकैप्ड खिलाड़ी बन गई थीं। अब उनके बदले सयाली सागगारे टीम का हिस्सा बनी हैं।

सयाली साठगारे 2020 में स्मृति मंधाना के नेतृत्व वाली ट्रेलब्लेजर्स की टीम में शामिल थीं। गुजरात जायंट्स ने नीलामी में 10 खिलाड़ियों को खरीदा था। काशवी गौतम सहित मेघना सिंह, त्रिशा पूजित, प्रिया मिश्रा, वेदा कृष्‍णामूर्ति और तरन्‍नुम पठान,,फोएब लिचफील्‍ड, लौरेन शेटल, कैथरीन ब्राइस, मन्‍नत कश्‍यप पर भी टीम ने खरीदा था।

काशवी के अलावा गुजरात जायंट्स को दूसरा झटका लौरेट शेटल के रूप में लगा है। वह स्किन कैंसर का इलाज करा रही हैं, इसलिए वह टूर्नामेंट नहीं खेल सकेंगी। उनकी जगह टीम में न्यूजीलैंड की अनुभवी ली ताहूहु को जगह दी गई है। गुजरात जायंट्स का पहला मैच 25 फरवरी को चैंपियंस मुंबई इंडियंस के खिलाफ उतरेगी।

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को भी लगा झटका

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए भी बुरी खबर सामने आई है। टीम की प्रमुख खिलाड़ी कनिका आहूजा चोट लगने की वजह से टीम से बाहर हो गई हैं। टीम ने उनकी जगहब श्रद्धा पोखरकर को टीम में शामिल किया है। उनकी रिजर्व प्राइस 10 लाख रुपए है।

  • ABOUT THE AUTHOR
    defalt imgunnamed

    अनुराग मिश्रा नईदुनिया डिजिटल में सब एडिटर के पद पर हैं। वह कंटेंट क्रिएशन के साथ नजर से खबर पकड़ने में माहिर और पत्रकारिता में लगभग 3 साल का अनुभव है। अनुराग मिश्रा नईदुनिया में आने से पहले भास्कर हिंदी और दैन



Source link