'हमने डुबो दिया रूस का एक और जंगी जहाज', जंग के बीच यूक्रेन ने किया बड़ा दावा – India TV Hindi


यूक्रेन ने किया रूसी जहाज डुबोने का दावा।- India TV Hindi

Image Source : ANI
यूक्रेन ने किया रूसी जहाज डुबोने का दावा।

Russia Ukraine War News: रूस और यूक्रेन जंग दो साल बाद भी जारी है। ताजा मामले में यूक्रेन ने रूस पर जोरदार प्रहार किया है। यूक्रेन ने दावा किया है कि उसने एक और रूसी जंगी जहाज को डुबो दिया है। सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक यूक्रेनी सेना ने मंगलवार को दावा किया कि उसने ब्लैक सी यानी काला सागर में जोरदार ड्रोन हमला किया और सफलतापूर्वक एक और रूसी जंगी जहाज को डुबो दिया है। 

काला सागर में रूसी नौसैनिकों को लगातार संघर्ष का सामना करना पड़ रहा है। उधर कीव ने जंग की शुरुआत के बाद से अपनी नौसेना में एक तिहाई की कमी की है। यूक्रेन की रक्षा खुफिया एजेंसी ने कहा कि उसके समुद्री ड्रोन ने 1300 टन के रूसी गश्ती जहाज सर्गेई कोटोव को केर्च जलडमरूमध्य के पास काले सागर में डुबो दिया, जो कब्जे वाले क्रीमिया को दक्षिण-पश्चिम रूस के तट से अलग करता है। 

पहले भी इस जहाज पर किया गया था हमला

यूक्रेनी डिफेंस इंटेलिजेंस के एक बयान में कहा कि ‘मगुरा वी5 समुद्री ड्रोन के हमले के चलते रूसी जहाज प्रोजेक्ट 22160 ‘सर्गेई कोटोव’ जहाज और बंदरगाह के किनारों को नुकसान पहुंचा। इससे जहाज में आग लग गई।’ सीएनएन के अनुसार यूक्रेनी सेना ने बाद में दावा किया कि जहाज डूब गया था। यूक्रेनी रक्षा खुफिया एजेंसी के प्रतिनिधि एंड्री युसोव ने कहा कि सर्गेई कोटोव जहाज को पहले भी निशाना बनाया गया था। लेकिन इस बार सर्गेई कोटोव जहाज को निश्चित रूप से नष्ट कर दिया गया है।’

हाल के समय में यूक्रेनी ड्रोनों ने रूस को पहुंचाया काफी नुकसान

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार यूक्रेन ने हाल के समय रूस से जंग में समुद्री ड्रोनों से रूसी नौसैनिक जहाजों को भारी नुकसान पहुंचाया है। खासकर पिछले कुछ महीनों में काला सागर की जंग में रूस को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है।  पिछले महीने रूसी लैंडिंग जहाज सीज़र कुनिकोव पर उन्हीं ड्रोनों से हमला किया गया था जिनका इस्तेमाल सर्गेई कोटोव के खिलाफ किया गया था। यूक्रेनी सैन्य खुफिया एजेंसी ने टेलीग्राम पर कहा कि ड्रोन ने रूसी जहाज को डुबाने से पहले उसके बाईं ओर हमला करके बड़ा ‘छेद’ कर दिया था।

इससे पहले, फरवरी में यूक्रेन ने दावा किया था कि उसकी सेना ने रूस के लगभग 33 प्रतिशत युद्धपोतों को निष्क्रिय कर दिया है। इनमें 24 जहाज और एक पनडुब्बी शामिल हैं। युद्ध में रूस की सबसे बुरी नौसैनिक क्षति अप्रैल 2022 में गाइडेड-मिसाइल क्रूजर मोस्कवा का डूबना था।

Latest World News





Source link