टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में टीम इंडिया का बड़ा कारनामा, पहली बार इंग्लैंड के खिलाफ किया ये करिश्मा – India TV Hindi


devdutt padikkal sarfaraz khan- India TV Hindi

Image Source : GETTY
टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में टीम इंडिया का बड़ा कारनामा, पहली बार इंग्लैंड के खिलाफ किया ये करिश्मा

Yashasvi Jaiswal, Rohit Sharma, Shubman Gill, Devdutt Padikkal, Sarfaraz Khan : भारत बनाम इंग्लैंड सीरीज में रोज नए नए कीर्तिमान बन रहे हैं। हर मैच में कोई न कोई रिकॉर्ड बन जाता है। चाहे गेंदबाज हो या फिर बल्लेबाज, टीम इंडिया के खिलाफ अंग्रेजों पर पूरी तरह से हावी नजर आ हैं। इस बीच भारतीय क्रिकेट टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ खेले जा रहे धर्मशाला टेस्ट में एक और नया कीर्तिमान बना दिया है। इससे पहले भारत ने टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में 3 बार ये काम किया है, लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ पहली बार हुआ है। इससे आप समझ सकते हैं कि भारतीय टीम कैसा प्रदर्शन कर रही है। 

टीम इंडिया के टॉप 5 बल्लेबाजों ने खेली 50 रन से ज्यादा की पारी 

धर्मशाला में खेले जा रहे टेस्ट मैच की खास बात ये है कि भारतीय टीम के टॉप 5 बल्लेबाजों ने कम से कम 50 रन से ज्यादा की पारी खेली है। इसमें से रोहित शर्मा और शुभमन गिल ने तो शतकीय पारियां भी खेली हैं। इसके अलावा यशस्वी जायसवाल, सरफराज खान और देवदत्त पडिक्कल ने भी अपने अपने अर्धशतक पूरे किए। इसमें मजे की बात ये है कि सरफराज खान जहां अपना तीसरा ही मुकाबला खेल रहे हैं, वहीं देवदत्त पडिक्कल के लिए तो ये डेब्यू टेस्ट है। पडिक्कल ने छक्का लगाकर बेखौफ अंदाज में अपना अर्धशतक पूरा किया। 

साल 1998 में पहली बार हुआ था ऐसा कमाल 

सबसे पहले की बात करें तो साल 1998 में भारत ने पहली बार ये कारनामा किया था। जब कोलकाता में सामने ऑस्ट्रेलियाई टीम थी। इस मैच में बतौर सलामी बल्लेबाज उतरे वीवीएस लक्ष्मण ने 95, नवजोत सिंह सिद्धू ने 97, राहुल द्रविड़ ने 86, सचिन तेंदुलकर ने 79 और तब के कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने 163 रनों की दमदार पारी खेली थी। इसके बाद नंबर 6 पर खेलने के लिए आए सौरव गांगुली ने भी 65 रन बनाए थे। ये मैच भारत ने पारी और 219 रन से अपने नाम किया था। 

साल 1999 में फिर से हुआ कारनामा 

इसके बाद साल 1999 में फिर ये यही कारनामा दोहराया गया। इस बार न्यूजीलैंड के खिलाफ मोहाली में मैच की दूसरी पारी में रिकॉर्ड बना। देवांग गांधी ने 75, सदगोपन रमेश ने 73, राहुल द्रविड़ ने 144, कप्तान सचिन तेंदुलकर ने 126 और सौरव गांगुली ने 64 रन बनाए थे। हालांकि ये मैच बराबरी पर यानी ड्रॉ पर समाप्त हुआ था। 

साल 2009 में फिर हुआ करिश्मा 

इसके बाद लंबे समय तक ऐसा नहीं हुआ, लेकिन साल 2009 में फिर ये हुआ। इस बार मुंबई में सामने श्रीलंका की टीम थी। इस मैच में मुरली विजय ने 87, वीरेंद्र सहवाग ने 293, राहुल द्रविड़ ने 74, सचिन तेंदुलकर ने 53 और वीवीएस लक्ष्मण ने 62 रन की पारियां खेली थी। इस मैच को भारत ने पारी और 24 रन से अपने नाम करने में कामयाबी हासिल की थी। 

इंग्लैंड के खिलाफ पहली बार लिखा इतिहास 

अब करीब 15 साल बाद फिर ऐसा ही हुआ है। इस बार यशस्वी जायसवाल ने 57, रोहित शर्मा ने 103, शुभमन गिल ने 110, देवदत्त पडिक्कल ने 65 और सरफराज खा ने 56 रनों की शानदार पारी खेली है। साफ है कि भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ पहली बार ये कारनाम किया है। इस तरह से अंग्रेज टीम इस वक्त बुरी तरह से बैकफुट पर ढकेल दिया है। भारत को पहली पारी के आधार पर एक बड़ी लीड मिल गई है। ऐसे में भारत की जीत करीब करीब पक्की सी लग रही है। बस इतना है कि देखना ये होगा कि जीत पारी से होती है या फिर विकेट से। मैच कितने दिन चलेगा, ये भी रोचक होने जा रहा है। 

इंडिया टीवी पर खेल की ये खबरें भी पढ़ें 

VIDEO : बेन स्टोक्स ने 9 महीने और 7 मैचों के बाद संभाली बॉल, पहली ही गेंद पर कमाल

रोहित शर्मा का शतक और एक झटके में चकनाचूर हो गए इतने कीर्तिमान, ये रहे सारे रिकॉर्ड

Latest Cricket News





Source link