रोजाना प्रकृति के साथ बिताएं इतना वक्त, मेंटल हेल्थ होगी दुरुस्त, मिलेंगे गजब के फायदे


भागदौड़ भरी जिंदगी और बिजी लाइफस्टाइल के चलते आजकल लोग खुद के लिए वक्त नहीं निकाल पा रहे हैं. जिसका असर मेंटल हेल्थ पर पड़ रहा है. काम का प्रेशर मानसिक समस्याओं और बीमारियोंको बढ़ा रहा है. जो हेल्दी लाइफस्टाइल के लिए बिल्कुल भी सही नहीं माना जाता है.

भागदौड़ भरी जिंदगी और बिजी लाइफस्टाइल के चलते आजकल लोग खुद के लिए वक्त नहीं निकाल पा रहे हैं. जिसका असर मेंटल हेल्थ पर पड़ रहा है. काम का प्रेशर मानसिक समस्याओं और बीमारियोंको बढ़ा रहा है. जो हेल्दी लाइफस्टाइल के लिए बिल्कुल भी सही नहीं माना जाता है.

अगर मेंटल हेल्थ को बेहतर बनाना है या किसी भी तरह की मानसिक बीमारी से छुटकारा पाना है तो प्रकृति आपकी मदद कर सकता है. हालांकि, इसके लिए आपको कुछ वक्त नेचर के साथ बिताना होगा. आइए जानते हैं प्रकृति मेंटल हेल्थ को बेहतर बनाने में कैसे मदद करती है...

अगर मेंटल हेल्थ को बेहतर बनाना है या किसी भी तरह की मानसिक बीमारी से छुटकारा पाना है तो प्रकृति आपकी मदद कर सकता है. हालांकि, इसके लिए आपको कुछ वक्त नेचर के साथ बिताना होगा. आइए जानते हैं प्रकृति मेंटल हेल्थ को बेहतर बनाने में कैसे मदद करती है…

नेचर में कुछ देर रहने से स्ट्रेस लेवल कम होता है और माइंड रिलैक्स होता है.डिप्रेशन और एंग्जाइटी जैसी मेंटल हेल्थ प्रॉब्लम्स है तो प्रकृति में वक्त गुजारने से छुटकारा मिल जाता है. अगर नींद से जुड़ी समस्याओं सो जूध रहे हैं तो भी प्रकृति मदद करती है.

नेचर में कुछ देर रहने से स्ट्रेस लेवल कम होता है और माइंड रिलैक्स होता है.डिप्रेशन और एंग्जाइटी जैसी मेंटल हेल्थ प्रॉब्लम्स है तो प्रकृति में वक्त गुजारने से छुटकारा मिल जाता है. अगर नींद से जुड़ी समस्याओं सो जूध रहे हैं तो भी प्रकृति मदद करती है.

मूड स्विंग होने या काफी बीमार रहने पर भी प्रकृति में जाकर रोजाना समय देना चाहिए. इससे काफी आराम मिलता है. एक्सपर्ट्स भी प्रकृति के साथ समय बिताने के कई फायदे बताते हैं. इससे इम्यूनिटी भी मजबूत होती है.

मूड स्विंग होने या काफी बीमार रहने पर भी प्रकृति में जाकर रोजाना समय देना चाहिए. इससे काफी आराम मिलता है. एक्सपर्ट्स भी प्रकृति के साथ समय बिताने के कई फायदे बताते हैं. इससे इम्यूनिटी भी मजबूत होती है.

मेंटल हेल्थ को बेहतर रखने के लिए रोजाना सुबह वॉक पर जाएं. इस समय की धूप से ब्रेन में हैप्पी हार्मोन बढ़ते हैं और मूड अच्छा रहता है. प्रकृति में वक्त बिताने का मतलब पेड़-पौधों के करीब रहना. ऐसे में जिम की बजाय खुली हवा में एक्सरसाइज करने से शारीरिक और मानसिक लाभ दोनों होंगे.

मेंटल हेल्थ को बेहतर रखने के लिए रोजाना सुबह वॉक पर जाएं. इस समय की धूप से ब्रेन में हैप्पी हार्मोन बढ़ते हैं और मूड अच्छा रहता है. प्रकृति में वक्त बिताने का मतलब पेड़-पौधों के करीब रहना. ऐसे में जिम की बजाय खुली हवा में एक्सरसाइज करने से शारीरिक और मानसिक लाभ दोनों होंगे.

घर की बालकनी और ऑफिस में इनडोर प्लांट्स लगाएं. इससे प्रकृति के करीब रहने का एहसास होता है. खराब मेंटल हेल्थ को हील करने में प्रकृति काफी मदद करती है. ऐसे में रोजाना के बिजी शेड्यूल से कुछ वक्त निकालकर प्रकृति के करीब कुछ देर बिताएं.

घर की बालकनी और ऑफिस में इनडोर प्लांट्स लगाएं. इससे प्रकृति के करीब रहने का एहसास होता है. खराब मेंटल हेल्थ को हील करने में प्रकृति काफी मदद करती है. ऐसे में रोजाना के बिजी शेड्यूल से कुछ वक्त निकालकर प्रकृति के करीब कुछ देर बिताएं.

Published at : 07 Mar 2024 04:26 PM (IST)

हेल्थ फोटो गैलरी

हेल्थ वेब स्टोरीज



Source link