Pak Vs Nz: बुरे फंसे बाबर आजम, साथी खिलाड़ी ने इस फैसले पर उठाया बड़ा सवाल – Times Bull


अभी जॉइन करें Telegram ग्रुप

नई दिल्लीः पाकिस्तानी खिलाड़ी आए दिन सुर्खियों का हिस्सा बने रहते हैं। वे कभी अपने खेल को लेकर तो कभी एक दूसरे पर हमले के चलते चर्चा में रहते हैं। भारत में भले ही आईपीएल चल रहा है, जिसकी धूम देश और दुनिया में सुनाई दे रही है। इस बीच पाकिस्तानी टीम तो न्यूजीलैंड के साथ सीरीज खेल रही है।

न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के बीच पांच वनडे मैचों की सीरिज खेली जा रही है। अभी सीरीज के दो मुकाबले खिले हैं, जिनमें पाकिस्तान को मुंह की खानी पड़ी है। हार के बद पाकिस्तानी टीम के कप्तान बाबर आजम को फैंस की आलोचना झेलनी पड़ रही हैं। इतना ही नहीं अब तक साथी खिलाड़ी ने भी बाबर आजम के फैसले पर सवाल उठाया है।

अभी जॉइन करें Telegram ग्रुप

शानदार Hero HF Deluxe मिल रही है मात्र 16 हजार रुपे में, दमदार इंजन के साथ देती है गजब का माइलेज

Free Mobile government scheme: डिजिटल इंडिया के तहत आ गई नई योजना , अब मिलेगा सभी महिलाओं को फ्री स्माटफोन

मोहम्मद रिजवान ने बाबर आजम के फैसले पर उठाया सवाल

पाकिस्तान टीम के बड़े बल्लेबाजों की सूची में शामिल मोहम्मद रिजवान ने कप्तान बाबर आजम के फैसले पर सवाल उठाया है। दरअसल रिजवान अपने बल्लेबाजी नंबर से खुस नहीं है। उन्होंने अपनी बैटिंग पोजिशन पर सवाल उठाते हुए बाबर आजम को निशाने पर लिया है। मोहम्मद रिजवान टी-20 में पाकिस्तान की ओर से ओपनिंग करते नजर आते हैं, वेकिन वनडे में ऐसा नहीं हो रहा है। वनडे में मोहम्मद रिजवान को नंबर 5 पर बल्लेबाजी के लिए भेजा जा रहा है।

इस नंबर बल्लेबाजी करने उतरे मोहम्मद रिजवान

वनडे सीरीज के शुरुआती दो मैचों मोहम्मद रिजवान को नंबर पांच पर बल्लेबाजी करने का आमंत्रण भेजा गया। दोनों मुकाबले में उन्होंने अभी 96 रन बनाए हैं। पहले मैच में 42, जबकि दूसरे में नाबद 54 रन की पारी खेली। जानकारी के लिए बता दें कि दोनों मुकाबले में पाकिस्‍तान ने 4 नंबर पर दो बैटर को आजमाया, जो रन बनाने में नाकाम साबित हुए। पहले मैच में शान मसूद इस पोजीशन पर खेले। वह 12 गेंद में एक रन बनाकर आउट हो गए।

वहीं, टीम के ताकतवर बैट्समैन मोहम्‍मद रिजवान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि मैं पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करके खुश नहीं हूं। मैं चौथे नंबर पर खेलना चाहता हूं। ये मेरी दिली ख्‍वाहिश है, लेकिन ऐसा नहीं हो पा रहा है। इससे मेरी इच्छा पर कोई पर्क नहीं पड़ता है। अंतिम फैसा कप्तान और कोच का होगा, जो मुझे स्वीकार है।

 



Source link