OMG! कोई दवा नहीं, यहां रामचरित मानस की चौपाइयों से इलाज! Meerut में ऐसे कामयाब हुआ अनोखा प्रयोग


मेरठ. आज के समय में तनाव और चिंता की समस्या से कौन ग्रस्त नहीं है! डिप्रेशन दूर करने के लिए कई तरह की काउंसलिंग और मनोवैज्ञानिक इलाज उपलब्ध हैं लेकिन मेरठ के जिला अस्पताल में बनाए गए मन कक्ष में ऐसी समस्या वाले मरीजों को अनूठे ढंग से इलाज दिया जा रहा है. यहां मरीजों के मन में जो भी दुख-दर्द हैं, उन्हें दूर करने के लिए रामचरित मानस की चौपाइयों का सहारा लिया जा रहा है.

News18 लोकल से खास बातचीत करते हुए क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट जिला मानसिक चिकित्सा प्रकोष्ठ जिला अस्पताल मेरठ की डॉ. विभा नागर ने बताया साल 2018 में इस कक्ष की शुरुआत हुई थी. तबसे रामचरित मानस की चौपाइयों के माध्यम से मरीजों की समस्याओं का समाधान वह कर रही हैं. इस थेरैपी के बारे में उन्होंने बताया काउंसलिंग के दौरान पता लगाया जाता है मरीजों के मन में क्या चल रहा है. तनाव या डिप्रेशन के तमाम कारणों को जानने का प्रयास किया जाता है. समस्याओं को जानने के बाद रामचरितमानस की कौन सी चौपाई में उसका समाधान है. उसके बारे में मरीजों को बताया जाता है.

विशेषज्ञ बताते हैं कि भारतीय पौराणिक ग्रंथों में अनेक समस्याओं का निवारण लिखा हुआ है. इससे पहले भी न्यूज़18 ने वह रिपोर्ट दी थी, जिसमें बताया गया था कैसे मेरठ के एक निजी अस्पताल में ऑपरेशन थिएटर में मरीजों का ट्रीटमेंट से पहले हवन किया जाता है. डॉक्टर का कहना था कि हवन करने से ओटी विषाणुरहित हो जाता है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

FIRST PUBLISHED : February 04, 2023, 10:35 IST



Source link