विराट-रोहित नहीं ये, धुरंधर बल्लेबाज़ तोड़ेगा सचिन के रिकॉर्ड – Times Bull


अभी जॉइन करें Telegram ग्रुप

क्रिकेट में सचिन तेंदुलकर के नाम कई रिकॉर्ड दर्ज हैं। मास्टर ब्लास्टर ने वनडे में 49 और टेस्ट क्रिकेट में 51 सहित कुल 100 अंतरराष्ट्रीय शतक बनाए हैं। वर्षों से, कई क्रिकेट विशेषज्ञों ने अनुमान लगाया है कि टेस्ट क्रिकेट में सचिन के 51 शतकों के विश्व रिकॉर्ड को संभावित रूप से कौन तोड़ सकता है। जहां विराट कोहली को अक्सर एक दावेदार के रूप में उल्लेख किया जाता है, वहीं एक और खिलाड़ी है जिसे सचिन के रिकॉर्ड के लिए सबसे बड़ा खतरा माना जाता है।

वह खिलाड़ी कोई और नहीं बल्कि ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीव स्मिथ हैं, जिन्हें आकड़ो के अनुसार दुनिया के सर्वश्रेष्ठ टेस्ट बल्लेबाजों में से एक माना जाता है। स्टीव स्मिथ पहले ही टेस्ट क्रिकेट में 30 शतक लगा चुके हैं और सचिन के रिकॉर्ड को तोड़ने से सिर्फ 22 शतक दूर हैं। 33 साल की उम्र में, स्मिथ में अभी भी कुछ साल का क्रिकेट बाकी है, जिससे इस बात की अत्यधिक संभावना है कि वह जल्दी भविष्य में रिकॉर्ड तोड़ देंगे।

अभी जॉइन करें Telegram ग्रुप

शानदार Hero HF Deluxe मिल रही है मात्र 16 हजार रुपे में, दमदार इंजन के साथ देती है गजब का माइलेज

Free Mobile government scheme: डिजिटल इंडिया के तहत आ गई नई योजना , अब मिलेगा सभी महिलाओं को फ्री स्माटफोन

स्मिथ का टेस्ट करियर काफी शानदार रहा है। उन्होंने 96 मैचों में 59.81 की शानदार औसत से 8792 रन बनाए हैं। स्मिथ ने 30 शतकों के अलावा 37 अर्धशतक भी लगाए हैं। उनकी लगातार और मैच की कठिन परिस्थितियों में बड़े रन बनाने की क्षमता ने उन्हें दुनिया भर के गेंदबाजों के लिए एक मजबूत प्रतिद्वंद्वी बना दिया है।

टेस्ट क्रिकेट में शतकों के मामले में स्टीव स्मिथ वर्तमान में जो रूट और विराट कोहली जैसे अन्य कई बल्लेबाजों से आगे हैं। उनके पास केवल 169 टेस्ट पारियों में 30 शतक बनाने का रिकॉर्ड है, जो उनकी बल्लेबाजी की मजबूती को दर्शाता है। यदि वह इसी तरह खेलना जारी रखते है, तो वह जल्द ही सचिन के रिकॉर्ड को तोड़ देंगे और क्रिकेट के इतिहास में अपनी जगह पक्की कर लेंगे।

गौरतलब है कि स्टीव स्मिथ ने अपने करियर में भी कई तरह की की चुनौतियों का सामना किया है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच के दौरान गेंद से छेड़छाड़ के कारण 2018 में उन पर एक साल का प्रतिबंध लगा दिया गया था। हालाँकि, उन्होंने उसके बाद एक मजबूत वापसी की है और बेहतर प्रदर्शन करना जारी रखा है।

क्रिकेट में सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड निश्चित रूप से प्रभावशाली हैं, लेकिन स्टीव स्मिथ जैसे खिलाड़ी हैं जो उन्हें तोड़ने के करीब हैं। स्मिथ की कठिन परिस्थितियों में बड़े रन बनाने की क्षमता उन्हें सचिन के 51 टेस्ट शतकों के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ने का प्रबल दावेदार बनाती है। दुनिया भर के क्रिकेट प्रशंसक आने वाले वर्षों में स्मिथ के प्रदर्शन पर कड़ी नजर रखेंगे।



Source link