दिल्ली-पुणे से 3500 करोड़ की म्याऊं-म्याऊं ड्रग्स जब्त: फूड पैकेट में डिलीवरी होती थी, 8 गिरफ्तार; पुणे पुलिस की अब तक की सबसे बड़ी जब्ती


पुणे14 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
पुणे पुलिस ने बताया कि नशीली दवाओं की तस्करी का काम नमक के गोदाम में किया जा रहा था। इसमें अंतरराष्ट्रीय तस्करों के शामिल होने का शक है। - Dainik Bhaskar

पुणे पुलिस ने बताया कि नशीली दवाओं की तस्करी का काम नमक के गोदाम में किया जा रहा था। इसमें अंतरराष्ट्रीय तस्करों के शामिल होने का शक है।

पुणे और दिल्ली में पिछले तीन दिनों से जारी रेड में पुणे पुलिस ने 1,700 किलोग्राम मेफेड्रोन ड्रग्स जब्त की है। इसकी कीमत करीब 3,500 करोड़ रुपए बताई जा रही है। लोकल भाषा में मेफेड्रोन को म्याऊं म्याऊं भी कहते हैं। महाराष्ट्र में पुणे पुलिस का यह अब तक का सबसे बड़ा ड्रग भंडाफोड़ है और भारत में अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई में से एक है।

पुणे सिटी पुलिस कमिश्नर अमितेश कुमार ने बुधवार (21 फरवरी) को बताया कि पुणे में कई जगहों से लगभग 720 किलोग्राम ड्रग्स बरामद किया गया है। दिल्ली में लगभग 970 किलोग्राम ड्रग्स मिला है। ड्रग नेटवर्क के पीछे एक कूरियर एजेंसी शामिल है, जो प्रोसेस्ड फूड पैकेट में ड्रग्स सप्लाई करती थी। कुछ कूरियर लंदन भेजे गए थे। अब तक 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

इसके अलावा बुधवार शाम को पुणे पुलिस ने सांगली शहर में 140 किलो MD ड्रग्स भी जब्त की। इसमें 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने बताया कि ड्रग्स का विदेश कनेक्शन भी सामने आया है। पार्सल से ड्रग्स को विदेश से मंगाया और बेचा जाता था।

पुलिस ने बताया कि एक कूरियर एजेंसी प्रोसेस्ड फूड पैकेट में ड्रग्स सप्लाई करती थी। (फाइल फोटो)

पुलिस ने बताया कि एक कूरियर एजेंसी प्रोसेस्ड फूड पैकेट में ड्रग्स सप्लाई करती थी। (फाइल फोटो)

3 लोगों की गिरफ्तारी के बाद दिल्ली में रेड पड़ी
पुणे पुलिस सोमवार (19 फरवरी) से रेड कर रही है। पुलिस ने मंगलवार (20 फरवरी) को बताया था कि पुणे के​​​ भैरवनगर और विश्रांतवाड़ी इलाकों में 19 फरवरी को रेड की गई थी। इस दौरान तीन ड्रग तस्करों को गिरफ्तार किया था। उनके पास से 1.75 किलोग्राम मेफेड्रोन जब्त हुई, जिनकी कीमत करीब 3.5 करोड़ रुपए आंकी गई। नमक के गोदाम में नशीली दवाओं की तस्करी का काम किया जा रहा था।

मेफेड्रोन की एक और बड़ी खेप पुणे के कुरकुंभ MIDC इलाके में भी रखी गई थी। पुलिस ने यहां से 650 किलो से ज्यादा ड्रग्स और कच्चा माल जब्त किया। ड्रग तस्करों से पूछताछ के बाद पुणे पुलिस की एक टीम ने दिल्ली के हौज खास इलाके में रेड की। दिल्ली के गोदाम में 400 किलोग्राम ड्रग्स बरामद हुई। आशंका है कि ड्रग्स को कुरकुंभ MIDC से नई दिल्ली ले जाया जा रहा था।

पुलिस को कुख्यात ड्रग तस्कर ललित पाटिल से आरोपियों के जुड़े होने का शक है। (फाइल फोटो)

पुलिस को कुख्यात ड्रग तस्कर ललित पाटिल से आरोपियों के जुड़े होने का शक है। (फाइल फोटो)

आरोपियों के कुख्यात ड्रग तस्कर ललित पाटिल से जुड़े होने का शक
20 फरवरी तक पुलिस ने पांच लोगों को पकड़ा गया था, जिनमें तीन कूरियर बॉय और दो अन्य शामिल थे। तीनों कूरियर बॉय के खिलाफ पहले से केस दर्ज हैं। एक शख्स की पहचान अनिल साबले के रूप में हुई है।

अनिल साबले पुणे में एक फैक्ट्री का मालिक है, जहां ड्रग्स रखी गई थी। पुलिस ने साबले को महाराष्ट्र के ठाणे के डोंबिवली से पकड़ा है। पुलिस को कुख्यात ड्रग तस्कर ललित पाटिल से आरोपियों के जुड़े होने का शक है। मामले में पाटिल की संलिप्तता को लेकर जांच जारी है।

ये खबरें भी पढ़ें…

एल्विश पार्टी में इस्तेमाल करते थे सांपों का जहर: सांप से कैसे कटवाते हैं, कितने दिन रहता है नशा; 3 मामलों से समझिए

explainer elvish snake venom 17 02 2024 1 11708073 1708495950

15 अक्टूबर 2023 को रियलिटी शो बिग बॉस से चर्चा में आए यूट्यूबर एल्विश यादव समेत 6 लोगों के खिलाफ एक FIR दर्ज की गई थी। आरोप था कि एल्विश यादव फार्म हाउसों में जिंदा सांपों के साथ वीडियो शूट कराते हैं। नोएडा पुलिस ने सपेरों के कब्जे से बरामद हुए सांपों के जहर को जांच के लिए FSL लैब भेजा था। अब रिपोर्ट आई है कि एल्विश की रेव पार्टी में कोबरा, करैत जैसे सांपों के जहर का इस्तेमाल हो रहा था। पूरी खबर पढ़ें…

कोबरा से जीभ पर डसवाते हैं: नशे के लिए कंडोम से मेंढक तक; अजीबो-गरीब ड्रग्स के इस्तेमाल की पूरी कहानी

monday mega drugs cover1699199139 1708495908

सांप से एक बार डसवाने के लिए 2,500 से 5,000 रुपए तक लगते हैं। डसने के 10 से 40 सेकेंड तक तेज चुभन होती है। उसके बाद परम सुख का एहसास होता है। फिर मसल्स में दर्द होता और अगले 12 से 24 घंटे के लिए गहरी नींद आ जाती है। 5-7 दिनों तक सुरूर रहता है। पूरी खबर पढ़ें…

खबरें और भी हैं…



Source link