क्रेमलिन ड्रोन हमला: क्या पुतिन के कत्ल की साजिश रूस को भड़का देगी? कहीं यूक्रेन को पछताना ना पड़े


मॉस्को. रूस की संसद के अध्यक्ष व्याचेस्लाव वोलोडिन ने क्रेमलिन पर यूक्रेन की तरफ से हुए एक कथित ड्रोन हमले के बाद यह मांग की है कि ‘कीव के आतंकवादी शासन को रोकने और उसे नष्ट करने में सक्षम हथियारों’ का इस्तेमाल करने की इजाजत दी जाए. ऐसा लगता है कि यूक्रेन के खिलाफ रूस को भड़काने में ड्रोन हमले ने आग में घी का काम कर दिया है. हो सकता है कि रूस पिछले साल फरवरी से यूक्रेन पर जारी हमलों को और तेज कर दे और अगर ये हुआ तो इसके नतीजे बड़े गंभीर हो सकते हैं.

दरअसल, रूसी अधिकारियों ने बुधवार को आरोप लगाया कि यूक्रेन ने बीती रात राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की हत्या के प्रयास में क्रेमलिन पर दो ड्रोन से हमला किया. क्रेमलिन ने कथित हमले के प्रयास को ‘आतंकवादी कृत्य’ करार दिया और कहा कि रूसी सेना और सुरक्षाबलों ने हमले से पहले ही दोनों ड्रोन को निष्क्रिय कर दिया.

क्रेमलिन की वेबसाइट पर एक बयान में कहा गया है कि मानवरहित विमान का मलबा रूस सरकार के कार्यालय की जमीन पर गिरा, लेकिन इससे कोई नुकसान नहीं हुआ. बयान में यह नहीं बताया गया कि ड्रोन नष्ट कैसे हुए, हालांकि यह जरूर कहा गया कि इसमें कोई हताहत नहीं हुआ.

स्थानीय मॉस्को समाचार टेलीग्राम चैनल पर जारी एक वीडियो में क्रेमलिन के ऊपर धुएं जैसा कुछ उठता दिखाई दिया है. यह वीडियो संभवत: क्रेमलिन के सामने नदी पार से बनाया गया है. वीडियो के साथ दी गई जानकारी के अनुसार, पास के एक अपार्टमेंट बिल्डिंग के निवासियों ने स्थानीय समयानुसार देर रात लगभग ढाई बजे धमाकों की आवाज सुनने और धुआं देखने की सूचना दी। पोस्ट किए गए वीडियो की स्वतंत्र रूप से पुष्टि करना संभव नहीं है.

यूक्रेन ने क्रेमलिन पर हमले से किया इनकार
वहीं कीव ने हमले में संलिप्तता से स्पष्ट रूप से इनकार किया है. यूक्रेन के राष्ट्रपति के सलाहकार मिखाइलो पोडोल्याक ने कहा, ‘हम क्रेमलिन पर हमला नहीं करते हैं, क्योंकि सबसे पहले, यह किसी भी सैन्य समस्या का समाधान नहीं करता है. बिल्कुल. और यह हमारे आक्रामक उपायों को तैयार करने के दृष्टिकोण से बेहद नुकसानदेह है.’ उन्होंने कहा, ‘और सबसे महत्वपूर्ण बात, यह रूस को यूक्रेनी शहरों पर, नागरिक आबादी पर, बुनियादी सुविधाओं पर बड़े पैमाने पर हमले को सही ठहराने की अनुमति देगा. हमें इसकी ज़रूरत क्यों है?’

रूस की चेतावनी, हम जवाब देने का हक रखते हैं
क्रेमलिन ने हत्या के प्रयास समेत अपने दावे का समर्थन करने के लिए कोई सबूत पेश नहीं किया. रूस मंगलवार को अपना वार्षिक विजय दिवस मनाने की तैयारी कर रहा है. क्रेमलिन के एक बयान के मुताबिक, ‘हम विजय दिवस, नौ मई को होने वाली परेड, जहां विदेशी गणमान्य नागरिकों की मौजदूगी संभावित है, से पहले इन कार्रवाई को एक सुनियोजित आतंकवादी कृत्य और रूस के राष्ट्रपति की हत्या के एक प्रयास के रूप में देखते हैं.’ बयान में कहा गया, रूस ‘जब और जहां उचित समझे’ जवाब देने का अधिकार रखता है.

ड्रोन हमले के वक्त क्रेमलिन में नहीं थे पुतिन
क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने रूस की सरकारी समाचार एजेंसी ‘आरआईए नोवोस्ती’ को बताया कि पुतिन उस समय क्रेमलिन में नहीं थे और नोवो-ओगारियोवो निवास से काम कर रहे थे. रूसी राष्ट्रपति के आधिकारिक कार्यालय को क्रेमलिन कहते हैं. क्रेमलिन ने कहा कि राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन सुरक्षित हैं और अपने कार्यक्रम में कोई बदलाव किए बगैर काम कर रहे हैं. पेस्कोव ने कहा कि परेड नौ मई को निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होगी.

(इनपुट एजेंसी से भी)

Tags: Russia, Ukraine, Vladimir Putin



Source link