जेल में बंद रूस के विपक्षी नेता नवलनी की मौत, पुतिन की राह का एक और कांटा साफ


हाइलाइट्स

जेल में बंद रूसी विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी की मौत हो गई है.
यमालो-नेनेट्स इलाके की जेल में एलेक्सी नवलनी सजा काट रहे थे.
नवलनी ने शुक्रवार को टहलने के बाद अस्वस्थ महसूस किया और तुरंत होश खो बैठे.

मॉस्को. जेल में बंद रूसी विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी की मौत हो गई है. यमालो-नेनेट्स इलाके की जेल सेवा ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी. इस जेल में एलेक्सी नवलनी अपनी सजा काट रहे थे. अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित एक बयान में यमालो-नेनेट्स स्वायत्त जिले की संघीय प्रायद्वीपीय सेवा ने कहा कि नवलनी ने शुक्रवार को टहलने के बाद “अस्वस्थ महसूस किया” और “लगभग तुरंत होश खो बैठे.” रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक यह कहते हुए कि मेडिकल स्टाफ को बुलाया गया था, लेकिन वे नवलनी को होश में नहीं ला पा रहे हैं. सरकारी सूत्रों ने कहा कि एलेक्सी नवलनी की मौत के कारण का अभी पता लगाया जा रहा है.

रूस के सबसे प्रमुख विपक्षी नेता और राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के मुखर आलोचक एलेक्सी नवलनी को पिछले साल अगस्त में रूसी अदालत ने 19 साल जेल की सजा सुनाई थी. इस बीच, क्रेमलिन ने दावा किया है कि उसे नवलनी की मौत के कारण के बारे में कोई जानकारी नहीं है. रूस की सरकार ने कहा कि जेल सेवा उसकी मौत के संबंध में सभी जांच कर रही थी. रूस की जांच समिति ने मौत की प्रक्रियात्मक जांच शुरू कर दी है. एक रूसी अखबार के संपादक और नोबेल शांति पुरस्कार विजेता दिमित्री मुराटोव ने रॉयटर्स को बताया कि जेल में बंद विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी की मौत एक हत्या है. उन्होंने कहा कि उनका मानना ​​है कि जेल की स्थितियों के कारण उनकी मौत हुई.

गौरतलब है कि रूस के सबसे प्रमुख विपक्षी नेता और पुतिन के मुखर आलोचक एलेक्सी नवलनी को चरमपंथ के आरोप में पिछले साल अगस्त में एक रूसी अदालत ने 19 साल और जेल की सजा सुनाई थी. जिस जेल कॉलोनी में नवलनी अपनी सजा काट रहे थे, वह मास्को से लगभग 1,900 किमी. (1,200 मील) उत्तर-पूर्व में यमालो-नेनेट्स क्षेत्र में गंभीर हालातों के लिए कुख्यात है.

जेल में 21 दिन से भूख हड़ताल कर रहे एलेक्सी नवलनी मौत के कगार पर, व्लादिमीर पुतिन के हैं धुर-विरोधी

जेल में बंद रूस के विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी की मौत, पुतिन की राह का एक और कांटा साफ

एलेक्सी नवलनी जनवरी 2021 से रूस में सलाखों के पीछे हैं. तब वह जर्मनी में नर्व एजेंट जहर के हमले से उबरने के बाद मॉस्को लौटे थे. इस हमले के लिए उन्होंने रूस की सरकार को जिम्मेदार ठहराया था. अपनी गिरफ्तारी से पहले उन्होंने आधिकारिक भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान चलाया और क्रेमलिन विरोधी बड़े विरोध प्रदर्शनों का आयोजन किया. तब से उन्हें तीन बार जेल की सजा मिल चुकी है. उन्होंने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को राजनीति से प्रेरित बताते हुए खारिज कर दिया है.

Tags: Alexei Navalny, Russia News, Vladimir Putin



Source link