पुतिन की आर्मी के सामने अमेरिकी मदद बेदम, घबराए जेलेंस्की ने चीन से लगाई गुहार


कीव. यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने कहा कि वह चीन जैसे रूस पर असर रखने वाले देशों के साथ काम करना चाहते हैं. फिलहाल उनका देश नए सिरे से मॉस्को के जोरदार हमले का सामना कर रहा है. उन्होंने बीजिंग से अगले महीने शांति वार्ता में हिस्सा लेने की अपील की है. जेलेंस्की ने कहा कि चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने उन्हें एक फोन कॉल में भरोसा दिया कि बीजिंग यूक्रेन की क्षेत्रीय अखंडता का समर्थन करता है. हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि फोन पर यह बातचीत कब हुई. जेलेंस्की की यह बयान रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की दो दिनों की चीन यात्रा के तुरंत बाद शुक्रवार को आया. जिसके दौरान दोनों देशों ने गहन रणनीतिक सहयोग का वादा किया था.

बहरहाल चीन ने कभी भी रूस के फरवरी 2022 के यूक्रेन पर हमले की निंदा नहीं की है. बल्कि चीन ने इस संघर्ष में तटस्थता का दावा किया है. उसने एक 12-सूत्री स्थिति जारी की है, जिसका स्वरूप काफी हद तक साफ नहीं है. अगले महीने स्विट्जरलैंड में अपेक्षित शांति वार्ता से पहले शी जिनपिंग ने ऐसी वार्ता की अपील की है, जिसमें दोनों पक्षों की स्थिति को ध्यान में रखा जाए. जेलेंस्की ने कहा कि चीन जैसे वैश्विक खिलाड़ियों को शामिल करना महत्वपूर्ण है क्योंकि रूस पर उनका असर है, और जितने अधिक ऐसे देश हमारे पक्ष में होंगे… उतना ही अधिक रूस को आगे बढ़ना होगा.

यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने कहा कि क्षेत्रीय अखंडता के बारे में शी जिनपिंग ने उन्हें फोन पर जो भरोसा दिया था, उसे ध्यान में रखते हुए उन्होंने कहा कि ‘वे समर्थन करते हैं, लेकिन वे क्या करेंगे, यह हमें अभी देखना बाकी है.’ बहरहाल जेलेंस्की और चीनी नेता के बीच एकमात्र जानकारी में आ चुकी फोन कॉल पिछले साल अप्रैल में हुई थी. जेलेंस्की ने कहा कि वह अगले महीने स्विट्जरलैंड में अंतरराष्ट्रीय वार्ता में चीन को देखना चाहेंगे, जिसका उद्देश्य यूक्रेन में शांति प्रक्रिया का मार्ग प्रशस्त करना है.

‘भारत विश्व का मित्र…’ यूक्रेन में शांति के लिए किसने मांगी PM मोदी से मदद, कह दी यह बड़ी बात

पुतिन की आर्मी के सामने अमेरिकी मदद बेदम, घबराए जेलेंस्की ने चीन से लगाई गुहार

वहीं यूक्रेन के अधिकारियों का कहना है कि रूसी सेनाएं सीमावर्ती शहर के बंदियों को ‘मानव ढाल’ के रूप में इस्तेमाल कर रही हैं. एक यूक्रेनी अधिकारी ने कहा है कि रूसी सेना ने सीमावर्ती शहर वोवचांस्क में दर्जनों नागरिकों को पकड़ लिया है. इलाके के एक टॉप पुलिस अधिकारी ने रूस पर बंदियों को ‘मानव ढाल’ के रूप में इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है. गौरतलब है कि मॉस्को ने उत्तरी यूक्रेन में अपना हमला फिर तेज कर दिया है. पिछले हफ्ते इसने जंग के दो साल में अपना सबसे आश्चर्यजनक अभियान शुरू किया. रूस ने यूक्रेन के दूसरे सबसे अधिक आबादी वाले शहर खार्किव पर कब्जा करने की नई कोशिशों में उत्तरी सीमा को पार किया.

Tags: China, Russia ukraine war, Ukraine war, Vladimir Putin



Source link