“जिन लड़कियों की शादी हो गई उनका क्या करेंगे, उनकी रखवाली कौन करेगा?”


असम में बाल विवाह करने वालों पर एक्शन को लेकर असदुद्दीन ओवैसी ने हिमंत बिस्व शर्मा सरकार पर आक्रामक हमला बोला। ओवैसी ने कहा कि शादीशुदा लड़कियों का क्या होगा, उनकी देखभाल कौन करेगा? असम सरकार ने 4000 मामले दर्ज किए, लेकिन नए स्कूल क्यों नहीं खोल रही है? इस दौरान ओवैसी ने बीजेपी पर मुसलमानों से भेदभाव करने का भी आरोप लगाया। ओवैसी ने कहा सरकार ने ऊपरी असम में भूमिहीन लोगों को जमीन दी लेकिन निचले असम में ऐसा नहीं किया।

जेल जाने के बाद लड़की की रखवाली कौन करेगा? 


AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा असम में 6 साल से बीजेपी की हुकूमत है। ये आपकी विफलता है। आपने कितने नए स्कूल बनाये हैं? जो जेल गए हैं, उनकी शादी हो गई अब लड़की की रखवाली कौन करेगा? शादी तो नहीं टूटेगी लेकिन ऐसे 6 ,000 मामले हैं। आप मुसलमानों के खिलाफ भेदभाव कर रहे हैं। ओवैसी ने कहा कि संसद चले तो इस मुद्दे को उठाएंगे। संसद ना चलने से मोदी को फायदा होगा। वो विपक्षियों के सवालों से बच सकते हैं।

बाल विवाह के खिलाफ एक्शन में 2 हजार से ज्यादा अरेस्ट

असम के CM हिमंता बिस्वा शर्मा ने बताया कि राज्य में बाल विवाह के 4 हजार से ज्यादा केस दर्ज हैं। 2 हजार से ज्यादा लोग गिरफ्तार भी हुए हैं। 8 हजार 134 लोगों की पहचान आरोपी के तौर पर हुई है। असम के CM ने कहा कि अब तक पूरे असम में बाल विवाह से संबंधित 4,074 मामले दर्ज किए गए जबकि 8,134 लोगों की पहचान आरोपी के रूप में की गई है। आज सुबह तक 2,211 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। बाल विवाह के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी। हमें लगभग 3,500 लोगों को गिरफ्तार करना होगा।

बाल विवाह के खिलाफ अभियान 2026 तक चलेगा

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व शर्मा ने शनिवार को कहा कि राज्य पुलिस द्वारा पिछले दिन से शुरू किया गया बाल विवाह के खिलाफ अभियान 2026 में अगले विधानसभा चुनाव तक जारी रहेगा। शर्मा ने कहा कि नाबालिग की शादी में शामिल माता-पिता को फिलहाल नोटिस देकर छोड़ा जा रहा है और गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें-

ओवैसी गा रहे ‘अरे द्वारपालों कन्हैया से कह दो’ भजन, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ एडिटेड VIDEO

भागवत के बयान पर भड़के ओवैसी, पूछा- हमें भारत में रहने की इजाजत देने वाले आप कौन?

 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन





Source link