लाश को ठिकाने लगा रहा था हत्‍यारा, कर बैठा ऐसी गलती, लग गए लाशों के ढेर


नई दिल्‍ली. आससी रंजिश या फिर कोई और वजह. आये दिन दुनिया में हत्‍या की कोई न कोई वारदात सामने आती ही रहती है. आरोपी वारदात के बाद सबूत मिटाने का भी प्रयास करता है ताकि उसे कोई पकड़ ना पाए. तब क्‍या हो जब कोई शख्‍स एक हत्‍या के सबूत मिटाने के चककर में 76 और हत्‍याएं कर बैठे. जी हां, साउथ अफ्रीका में एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां एक युवक ने हत्‍या से बचने के लिए लाश को ठिकाने लगाने के दौरान अनजाने में 76 हत्‍याएं कर दी.

दरअसल, हुआ कुछ यें कि हत्‍या का आरोपी शव को ठिकाने लगाने के लिए उसपर पेट्रोल छिड़ककर आगे के हवाले कर रहा था. इस दौरान आग बढ़ गई और पूरी बिल्डिंग में फैल गई. इस हादसे में अंदर मौजूद 76 लोगों की मौत हो गई. इस अग्निकांड के करीब एक साल बाद अब पुलिस ने आरोपी को इस मामले में गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक पिछले साल जोहान्‍सबर्ग में एक पांच मंजिला इमारत में आग लग गई थी. इस घटना में इतनी बड़ी संख्‍या में गई जान को लेकर जांच चल रही थी. इस दौरान आरोपी शख्‍स का बयान भी दर्ज किया गया.

यह भी पढ़ें:- मणिपुर से आई बुरी खबर, असम राइफल्स के जवान ने साथियों पर चलाई अंधाधुंध गोलियां, खुद को भी उड़ाया

गैर-अपराधिक जांच में बड़ा खुलासा
पूछताछ के दौरान उसने चौंकाने वाला और अप्रत्याशित बयान दिया. दक्षिण अफ़्रीकी मीडिया में प्रकाशित गवाही की रिपोर्टों के अनुसार, 29 वर्षीय शख्‍स की पहचान अभी पुलिस ने उजागर नहीं की है. पूछताछ में उसने कबूल किया कि अगस्त 2023 में जिस रात आग लगी थी उस रात उसने एक अन्य व्यक्ति की गला घोंटकर हत्या कर दी थी. मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, उसने कहा कि हत्या के बाद, उसने मृतक के शरीर पर पेट्रोल डाला और माचिस का उपयोग करके उसे जला दिया.

डेड बॉडी को ठिकाने लगा रहा था हत्‍यारा, कर बैठा ऐसी गलती, लग गए शहर में लाशों के ढेर

हत्‍या के 76, अटेम्‍प्‍ट टू मर्डर के 120 मुकदमे दर्ज
उसने आगे गवाही में कहा कि वह ड्रग्‍स लेने का आदी था और इमारत में ही रहने वाले एक अन्य ड्रग डीलर ने उसे उस व्यक्ति की हत्या करने का आदेश दिया था. पुलिस ने अपने बयान में कहा कि अब इस शख्‍स पर हत्या के 76 मामलों के साथ-साथ हत्या के प्रयास के 120 मुकदमे दर्ज किए गए हैं. जिस पूछताछ में उस व्यक्ति ने गवाही दी, वह कोई आपराधिक कार्यवाही नहीं थी और आगजनी के संबंध में उसका कबूलनामा आश्चर्यजनक था. जांच में यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि आग किस वजह से लगी और सुरक्षा विफलताएं किस कारण से हुईं, जिसके परिणामस्वरूप इतने सारे लोगों की मौत हो गई.

Tags: Crime News, Fire brigade, South africa



Source link