शख्स ने रात में 3 बजे सास को किया मैसेज, फिर पत्नी-बेटे की हत्या कर खुद भी दी जान – India TV Hindi


पत्नी-बेटे की हत्या के बाद शख्स ने की आत्महत्या।- India TV Hindi

Image Source : REPRESENTATIVE IMAGE
पत्नी-बेटे की हत्या के बाद शख्स ने की आत्महत्या।

सूरत: गुजरात के सूरत में तीन लोगों के शव एक साथ देखकर लोगों में हड़कंप मच गया। दरअसल यहां पर एक व्यक्ति ने पहले तो अपनी पत्नी और सात वर्षीय बेटे की कथित तौर पर हत्या की। इसके बाद उसने खुद भी फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के एक अधिकारी ने शुक्रवार को इस बात की जानकारी दी। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। पोस्टमार्टम के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी।

फंदे से लटकता मिला शख्स का शव

इस मामले के बारे में जानकारी देते हुए सहायक पुलिस आयुक्त जेटी सोनारा ने बताया कि सोमेश जिल्ला (38), उनकी पत्नी निर्मला (32) और उनके बेटे देवऋषि के शव लिंबायत इलाके में उनके घर से बरामद किये गए। अधिकारी ने बताया कि ”सोमेश का शव घर की सीलिंग से फंदे से लटका हुआ पाया गया, जबकि पत्नी निर्मला और बेटे देवऋषि के शव बिस्तर पर पड़े थे। उन्होंने बताया कि महिला और बच्चे को या तो जहर दिया गया या फिर उनकी गला घोंट कर हत्या की गयी। हालांकि इस मामले में अभी कुछ भी कहना सही नहीं है। उन्होंने कहा कि अधिक जानकारी पोस्टमॉर्टम के बाद ही सामने आ पाएगी।” 

सास को किया व्हाट्सएप मैसेज

सहायक पुलिस आयुक्त जेटी सोनारा ने बताया कि ”सोमेश के पास से बरामद एक नोट में कुछ पासवर्ड और एक मोबाइल नंबर के साथ-साथ उसके द्वारा अपने भाई को भेजा गया एक व्हाट्सएप मैसेज भी मिला है। इससे पता चलता है कि मृतक अपने भाई द्वारा नजरअंदाज किए जाने से आहत था।” अधिकारी ने बताया कि घटना गुरुवार और शुक्रवार की दरमियानी रात 3 बजे की है। उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी तब हुई, जब सोमेश जिल्ला का भाई सुबह 11 बजे घर पहुंचा, जिसके बाद उसने पुलिस को सूचित किया। सोनारा ने बताया कि सोमेश ने देर रात करीब तीन बजे अपनी सास को एक व्हाट्सएप मैसेज भी भेजा था, जिसमें लिखा था, ‘माफ करना अम्मा’। 

(इनपुट- भाषा)

यह भी पढ़ें- 

यूक्रेन युद्ध में सूरत के युवक की गई जान, पिता से बात करने के अगले दिन ड्रोन हमले में मौत

सोमवार को कांग्रेस इन राज्यों के उम्मीदवार भी कर लेगी फाइनल, लेकिन अमेठी और रायबरेली पर…





Source link