वजन घटाने के लिए शॉर्टकट लेना पड़ सकता है भारी, दवा के नुकसान को लेकर डॉक्टर्स ने दी चेतावनी


Weight Loss Drug: वजन घटाने के लिए लोग जिम में खूब पसीना बहाते हैं, साथ ही कई लोग अपने मोटापे से इतने परेशान रहते हैं कि वह वेट लॉस करने के लिए शॉर्टकट अपनाना शुरू कर देते हैं. जैसे कि वजन घटाने के लिए दवाई का यूज करना, या फिर इंजेक्शन लेना. वजन घटाने’ की दवा ओज़ेम्पिक – टाइप 2 मधुमेह के लिए एक दवा – हर दिन अधिक से अधिक लोग इसका इस्तेमाल कर रहे हैं, साथ ही जो लोग इन दवाई को खा रहे हैं वह सोशल मीडिया पर अपने वजन घटाने की कहानियों को साझा कर रहे हैं और एलोन मस्क जैसी हस्तियां भी इस दवा से अपने वजन घटाने परिवर्तन के बारे में खुल रही हैं.

वजन घटाने के लिए शॉर्टकट लेना पड़ सकता है भारी

हालांकि, वजन घटाने के लिए ऐसी दवाओं का उपयोग करने के बारे में सब कुछ सही नहीं है, टाइप 2 मधुमेह रोगियों के लिए परेशान करने वाले दुष्प्रभावों और बाजार में दवा की कमी की रिपोर्ट के साथ, जिन्हें वास्तव में इसकी आवश्यकता है. डॉक्टर्स बताते हैं कि ओज़ेम्पिक टाइप 2 मधुमेह के लिए एफडीए द्वारा अनुमोदित दवा है. इस दवा का सक्रिय यौगिक सेमाग्लूटाइड है. मोटापे के इलाज के लिए 2021 में यूएसएफडीए द्वारा ओजम्पिक या सेमाग्लूटाइड को मंजूरी दी गई है. यह समझना जरूरी है कि मोटापे को 30 से अधिक बीएमआई के रूप में बताया किया गया है.

वेट लॉस के लिए यह कैसे काम करता है?

डॉक्टर्स के अनुसार ओजेम्पिक यानी सेमाग्लूटाइड हमारे शरीर में प्राकृतिक रूप से पाए जाने वाले हार्मोन जीएलपी1 के प्रभाव को बढ़ाता है. GLP1 मस्तिष्क में भूख केंद्रों को प्रभावित करता है, भूख और लालसा को दबाता है. यह पेट के खाली होने की दर को भी धीमा कर देता है, प्रभावी रूप से भोजन के बाद परिपूर्णता और तृप्ति को बढ़ाता है. कुल मिलाकर जब आप ओज़ेम्पिक लेते हैं तो भूख कम हो जाती है और लंबे समय तक पेट भरा हुआ सा महसूस है.

डॉक्टर्स ने वेट लॉस दवा के साइड इफेक्ट को लेकर दी चेतावनी

वजन घटाने के लिए इस दवा का कौन उपयोग कर सकता है, इस बारे में डॉ. कहते हैं, “कोई भी रोगी जिसने अकेले आहार और व्यायाम के माध्यम से वजन कम करने के लिए मेहनत की है, उसका बीएमआई 30 और उससे अधिक है (या 27 और उससे अधिक का मोटापा- संबंधित सहरुग्णता) और एक बार साप्ताहिक इंजेक्शन का उपयोग करने के लिए लंबी अवधि के लिए एक अच्छा है, लेकिन यह केवल एक डॉक्टर विशेष रूप से एंडोक्रिनोलॉजिस्ट जैसे विशेषज्ञ की देखरेख में किया जाना चाहिए. डॉ. ने कहा, “अग्नाशयशोथ, थॉयराइड कैंसर या थायराइड कैंसर के पारिवारिक इतिहास वाले रोगियों में इन दवाओं से परहेज किया जाता है.

यह दवा कितनी सुरक्षित है?

कुल मिलाकर ओज़ेम्पिक के सुरक्षित होने का दावा किया जाता है. सामान्य लक्षण मतली, उल्टी, दस्त और कब्ज हैं. अधिक गंभीर परेशानी में आपकी दृष्टि, गुर्दे, पित्ताशय की थैली, अग्न्याशय की समस्याएं होती है.  इन वजन घटाने वाली दवाओं के रोगियों को अपने उपचार करने वाले डॉक्टर के साथ पालन करना चाहिए जो यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि रोगी धीरे-धीरे वजन कम कर रहा है, साथ ही पर्याप्त प्रोटीन का सेवन कर रहा है और झुर्रियों और शिथिलता को रोकने के लिए अपनी त्वचा को हाइड्रेटेड रखता है. वजन घटाने के लिए ओजेम्पिक का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. इसकी वजह से होने वाला वज़न अक्सर कम समय में फिर से वापस आ जाता है. अध्ययनों से पता चलता है कि जब दवा बंद कर दी जाती है तो वजन कई महीनों के भीतर वापस आ जाता है. 

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों को केवल सुझाव के रूप में लें, एबीपी न्यूज़ इनकी पुष्टि नहीं करता है. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट और सुझाव पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें.

यह भी पढ़ें- World Cancer Day 2023: नाखूनों के अंदर भी पनप सकता है कैंसर, इन संकेत को समय रहते पहचानना है जरूरी

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link