अगर आपको है ये दिक्कत तो कभी भी नहीं पहनना चाहिए सोना! हेल्थ के लिए नहीं रहेगा ठीक


भारतीय संस्कृति में सोना का अपना एक विशेष महत्व है. इसे काफी ज्यादा शुभ और पवित्र माना गया है. भारत में शादी का मतलब ‘सोना’, शादी में दुल्हा-दुल्हन सोने की ज्वैलरी से सजाया जाता हैं तो वहीं रिश्तेदार गिफ्ट में भी सोना ही देते हैं.  अगर लड़की कि शादी है तो लड़के और लड़की की फैमिली दोनों तरफ से सोना मिलता है. आप ऐसे समझे कि शुभ कार्य में सोना का अपना एक खास महत्व है. लेकिन सोने  की एक खासियत भी है. लेकिन शायद ही आपको इसका अंदाजा होगा. सोना के बारे में यह भी कहा जाता है कि वह व्यक्ति के सोए हुए भाग्य को जगा सकता है.  

ज्योतिषशास्त्र नहीं बल्कि साइंस के हिसाब से समझेंगे कि किन लोगों को सोना नहीं पहनना चाहिए

ज्योतिषशास्त्र के मुताबिक सोना को जरूरत और उससे होने वाले प्रभाव को समझते हुए ही धारण करना चाहिए. सोना के बारे में कहा जाता है कि अगर सूट कर जाए तो धनवान बना देगा और न करें तो रोड पर ला देगा. सोना आपको सम्मानित व्यक्ति भी बना सकता है. लेकिन आज हम ज्योतषशास्त्र नहीं बल्कि सांइस के हिसाब से समझेंगे क आखिर क्या सोना सूट नहीं करने पर शरीर पर दिखाई देते हैं ये लक्षण और किन लोगों को सोना नहीं पहनना चाहिए.

सोना एक खास तरह का मेटालिक होता है, एक द्रव्यमान में पीले रंग के साथ लेकिन जब इसे बारीक रूप से विभाजित किया जाता है तो यह काला, माणिक या बैंगनी हो सकता है. यह सबसे निंदनीय और तन्य धातु है. 1 औंस (28 ग्राम) सोने को 300 वर्ग फुट तक पीटा जा सकता है. यह एक नरम धातु है और इसे अधिक मजबूती देने के लिए आमतौर पर इसमें तांबा जैसे धातु मिलाई जाती है. यह गर्मी और बिजली का एक अच्छा सोर्स है. और जब इसे हवा लगता है तो यह काफी इंफेक्टिव हो जाता है. 

सोने को आमतौर पर आभूषणों में अधिक मजबूती देने के लिए इसमें दूसरे धातु तांबा को मिलाया जाता है. कैरेट शब्द मौजूद सोने की मात्रा का वर्णन करता है (24 कैरेट शुद्ध सोना है). यह अनुमान लगाया गया है कि दुनिया में अब तक परिष्कृत किए गए सभी सोने को 60 फीट के एक घन में एक तरफ रखा जा सकता है.सोना को सभी मेटल का राजा बताया गया है. 

इन लोगों को नहीं पहनना चाहिए सोना, हेल्थ पर पड़ता है ये गंभीर असर

सांस लेने की दिक्कत

अगर आप सांस लेने की दिक्कत से जूझ रहे हैं तो आपको सोना बिल्कुल भी नहीं पहनना चाहिए. 

गले और पेट में जलन

अक्सर आपके पेट और गले में जलना रहता है तो वैसे व्यक्ति को भूल से भी सोना नहीं पहनना चाहिए क्योंकि सानो आपके स्किन से टच होगी तो यह जलन और भी बढ़ सकती है. 

स्किन पर एलर्जी

किसी व्यक्ति को स्किन संबंधित कोई दिक्कत है तो उसे सोना बेहद सोच समझकर पहनना चाहिए नहीं तो आपकी स्किन की जलन और एलर्जी काफी बढ़ सकती है. 

आंख में जलन

जिन व्यक्ति की हमेशा आंखों में जलन होती है उन्हें भी सोना बेहद सोच समझकर पहनना चाहिए

रूमेटाइड आर्थराइटिस

रूमेटाइड आर्थराइटिस को ठीक करने के लिए एक खास तरह के क्राइसोटेराफी नाम का इलाज किया जाता है. इस इलाज में सोने का यूज किया जाता है. 

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों और सुझाव पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें.

ये भी पढ़ें: खाना खाते वक्त पानी पीना सही या गलत? जानें इस बारे में क्या कहता है शोध?

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link