किर्गिस्तान में भारी बवाल! भारतीय, पाकिस्तानी छात्रों पर क्यों हुआ हमला? जानें


नई दिल्ली: किर्गिस्तान में अंतरराष्ट्रीय छात्रों के खिलाफ भड़की हिंसा सुर्खियों में है. हिंसा के बीच भारत और पाकिस्तान ने छात्रों को एडवाइजरी जारी कर उन्हें घर पर रहने के लिए कहा है. एडवाइजरी के कुछ घंटों बाद, किर्गिज़ गणराज्य के विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी किया है. बयान में किर्गिस्तान ने कहा है कि ‘विनाशकारी ताकतें जानबूझकर किर्गिज़ गणराज्य की स्थिति के बारे में विदेशी मीडिया में गलत जानकारी फैला रही है.’

बता दें कि पिछले कई दिनों से किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में उथल-पुथल मची हुई है. हिंसक भीड़ ने छात्रावासों को निशाना बनाया है जहां बांग्लादेश, पाकिस्तान और भारत के छात्र रहते हैं. दूतावास ने कहा है कि शुक्रवार शाम से बिश्केक में भीड़ के विदेशी छात्रों के ख़िलाफ़ हिंसा करने की ख़बरें मिल रही हैं.

पढ़ें- Gaza War Live: इजरायली हमले से गाजा में भारी तबाही, हर तरफ मलबा और धुएं के गुबार, तेल अवीव में सड़कों पर उतरे लोग

आखिर क्यों भड़की हिंसा
किर्गिस्तान मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि यह झगड़ा 13 मई से जुड़ा हुआ है. जब मिस्र के कुछ मेडिकल छात्रों और कुछ किर्गी छात्रों के बीच कहासुनी हो गई थी. दोनों गुटों के बीच झड़प हुई और इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. इसके बाद 16 मई को, अंतर्राष्ट्रीय छात्रों पर हमला किया गया. इसके बाद स्थिति और बिगड़ गई.

16 मई की घटना के बाद भीड़ ने विदेशी छात्रों, विशेषकर पाकिस्तान और भारत के छात्रों पर हमला करना शुरू कर दिया. WION की रिपोर्ट के अनुसार एक भारतीय नागरिक ने शुक्रवार देर रात भारतीय दूतावास से संपर्क किया और अधिकारी को बताया कि उन्हें सहायता और सुरक्षा की सख्त जरूरत है.

Kyrgyzstan Violence: किर्गिस्तान में भारी बवाल! भारतीय, पाकिस्तानी छात्रों पर क्यों हुआ हमला? जानें हिंसा की पूरी वजह

भीड़ ने मेडिकल यूनिवर्सिटी के हॉस्टलों पर हमला किया, जिनमें बांग्लादेश, पाकिस्तान के छात्र रहते थे. पाकिस्तान की आज न्यूज के मुताबिक, महिला छात्रों को परेशान किया गया और कई को चोट पहुंचाई गई. हमलों में कम से कम 14 पाकिस्तानी छात्र घायल बताए जा रहे हैं.

Tags: World news, World news in hindi



Source link