अडानी ग्रुप को एक और झटका Moodys ने उसकी चार कंपनियों का आउटलुक किया निगेटिव


Publish Date: | Fri, 10 Feb 2023 06:18 PM (IST)

Moody’s Rating for Adani Group: गोता लगाते शेयरों के बीच अडानी ग्रुप को एक और झटका लगा है। मूडीज इनवेस्टर्स सर्विस ने शुक्रवार को अडानी ग्रुप की चार कंपनियों का आउटलुक, स्टेबल से घटाकर निगेटिव कर दिया है। रेटिंग एजेंसी मूडीज के मुताबिक, कंपनी के बड़े कैपिटल स्पेंडिंग प्रोग्राम और स्पॉन्सर सपोर्ट पर निर्भरता को देखते हुए एजीईएल के आउटलुक को निगेटिव कर दिया गया है। वैसे, अडानी ग्रुप की चार अन्य कंपनियों का आउटलुक स्टेबल रखा गया है। आपको बता दें कि विवादित हिंडनबर्ग रिपोर्ट जारी होने के बाद अडानी ग्रुप के शेयरों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है।

इन कंपनियों का आउटलुक नेगेटिव

मूडीज ने अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (एजीईएल); अडानी ग्रीन एनर्जी (यूपी) लिमिटेड, परमपूज्य सोलर एनर्जी प्रा. लि., प्रयत्न डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड सहित अडानी ग्रीन एनर्जी रिस्ट्रिक्टेड ग्रुप (एजीईएल आरजी-1); अडानी ट्रांसमिशन स्टेप-वन लिमिटेड (एटीएसओएल) और अडानी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड (एईएमएल) का आउटलुक स्टेबल से निगेटिव कर दिया है।

स्टेबल रखा इन कंपनियों का आउटलुक

इसके अलावा अडानी ग्रुप की चार कंपनियों अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन लिमिटेड (APSEZ), अडानी इंटरनेशनल कंटेनर टर्मिनल प्रा. लि., अडानी ग्रीन एनर्जी रिस्ट्रिक्टेड ग्रुप (AGEL RG-2) और अडानी ट्रांसमिशन रिस्ट्रिक्टेड ग्रुप 1 (ATL RG1) का आउटलुक स्टेबल बरकरार रखा है।

क्यों बदली रेटिंग

क्रेडिट आउटलुक को स्टेबल से नेगेटिव करने की वजह बताते हुए मूडीज ने कहा कि हिंडनबर्ग रिसर्च की रिपोर्ट में धोखाधड़ी और हेरफेर के आरोपों के बाद समूह की कंपनियों के मार्केट कैपिटलाइजेशन में भारी गिरावट आई है। साथ ही, AGEL RG-1 के आउटलुक को निगेटिव करने के पीछे दिसंबर, 2024 में मैच्योर हो रहे 50 करोड़ डॉलर के बॉन्ड की रिफाइनेंसिंग के रिस्क को जिम्मेदार बताया गया है। गौरतलब है कि मॉर्गन स्‍टैनले कैपिटल इंटरनेशनल (MSCI) ने भी अडानी ग्रुप शेयरों को इंडेक्‍स में बरकरार तो रखा है, लेकिन अपने कैलकुलेशन में 4 शेयरों में फ्री फ्लोट की संख्‍या घटा दी है। इसकी वजह से भी शेयरों में गिरावट आ रही है।

Posted By: Shailendra Kumar

 



Source link