काम की खबर: कैश डिपॉजिट मशीन से पैसे जमा करते हैं तो रहें अलर्ट, ये गलती की तो कटेंगे 25 रुपए

03 07 2024 cash deposit machine


कई बैंक ने अपनी ब्रांच में कैश डिपॉजिट मशीन लगा रखी है और यदि आप बिना एटीएम कार्ड के पैसे जमा करते हैं तो 25 रुपये का शुल्क का भुगतान एसबीआई की ओर से लेना शुरू कर दिया गया है। कई बैंक बिना एटीएम कार्ड के लेनदेन पर शुल्क लेने की तैयारी कर रहे है।

By Sandeep Chourey

Publish Date: Wed, 03 Jul 2024 05:22:23 PM (IST)

Updated Date: Wed, 03 Jul 2024 06:37:51 PM (IST)

अभी भी कई बैंक ऐसे है,जिन्होंने अभी तक इस प्रकार से शुल्क लेना शुरू नहीं किया है। – (फाइल फोटो)

HighLights

  1. खुद का पैसा बैंक में जमा करने पर भी कटेंगे 25 रुपए।
  2. बिना कार्ड कैश डिपॉजिट मशीन में न जमा करें राशि।
  3. अन्य बैंक भी लेनदेन पर शुल्क लेने की तैयारी कर रहे।

नईदुनिया प्रतिनिधि, रायपुर। अगर आप कैश डिपॉजिट मशीन में पैसे जमा कराने जा रहे है और आप यह लेनदेन बिना एटीएम कार्ड के करते है तो पहले यह समाचार जान लीजिए। बैंकों द्वारा इन दिनों बिना एटीएम कार्ड के लेनदेन करने पर उपभोक्ता से 25 रुपये शुल्क वसूला जा रहा है।

इसमें खास बात यह है कि अगर आप अपने बैंक की शाखा में लगे कैश डिपॉजिट मशीन में भी पैसे जमा कराते है तो भी आपको यह शुल्क लगेगा। इस तरह से बिना एटीएम कार्ड के पैसे जमा करने पर 25 रुपये का शुल्क का लेना एसबीआई द्वारा शुरू भी कर दिया गया है।

हालांकि अभी भी कई बैंक ऐसे है,जिन्होंने अभी तक इस प्रकार से शुल्क लेना शुरू नहीं किया है। बैंकिंग सूत्रों के अनुसार एसबीआई के बाद आने वाले दिनों में और भी कई बैंक बिना एटीएम कार्ड के लेनदेन पर शुल्क लेने की तैयारी कर रहे है।

इस संबंध में एसबीआई के अधिकारियों का कहना है कि बिना एटीएम कार्ड के लेनदेन पर यह शुल्क सर्विस शुल्क के रूप में लिया जा रहा है, चाहे आप यह लेनदेन अपने बैंक की शाखा में करें या फिर दूसरी शाखा में करें।

प्रति पेज के अनुसार शुल्क

इन दिनों पैसे जमा करने के लिए कैश डिपॉजिट मशीन का ही उपयोग ज्यादा से ज्यादा हो रहा है। बैंक स्टेटमेंट का भी शुल्क वित्तीय वर्ष 2023-24 का रिटर्न जमा करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई है और ऐसे में पासबुक अपडेट करने बैंकों में लाइन भी लगने लगी है। बैंकों द्वारा बैंक स्टेटमेंट का भी शुल्क लिया जा रहा है। बैंक स्टेटमेंट का यह शुल्क प्रति पेज के अनुसार लिया जाता है।

ग्राहक के खाते से कट जाती है राशि

यह शुल्क उपभोक्ता के बैंक अकाउंट से ही कट जाता है। सामान्य रूप से देखा जाए तो एक वित्तीय वर्ष का स्टेटमेंट लेने पर उपभोक्ता के खाते से 500 रुपये से 700 रुपये का शुल्क कट जाता है।

एक दिन में केवल एक पासबुक ही इश्यू

अगर उपभोक्ता का पास बुक पूरा भर चुका है और उसे नया पासबुक चाहिए तो उसे एक दिन में बैंक से एक ही पासबुक इश्यू होगा। इसके बाद नए पासबुक के लिए अगले दिन बैंक से इश्यू कराना होगा। उपभोक्ताओं को इसका ध्यान रखना चाहिए।

लाकर शुल्क भी हुआ महंगा

बैंकों द्वारा लाकर शुल्क भी महंगा कर दिया गया है। आपको यह लेना चाहिए कि बैंक में लाकर खोलने से लेकर उसे बार-बार खोलने पर भी आपको शुल्क देना पड़ सकता है। एसबीआई में लॉकर के आकार के अनुसार, उसका शुल्क 1500 रुपये से 9000 रुपये तक हो सकता है और जीएसटी अलग से देना पड़ता है।



Source link