गरीबों और मजदूरों को झमाझम होगा लाभ, इतने रूपये पेंशन से होंगे मालामाल – Times Bull

post office 3


नई दिल्ली: केंद्र सरकार की तरफ से अटल पेंशन योजना में बदलाव हुआ है। 1 अक्टूबर से होने वाले बदलाव के अनुसार इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने वाले है व्यक्ति को इसका लाभ नहीं मिल रहा है। इसको लेकर चर्चा हो रही थी कि योजना के अनुसार राशि बढ़ाने का कार्य हो रहा है।

पेंशन कोष नियामक एवं विकास प्राधिकरण (PFRDA) की तरफ से देखा जाए तो वित्त मंत्रालय से सिफारिश की थी। अब सरकार की तरफ से भी जवाब मिल गया है।

सरकार की तरफ से दिया गए जवाब को लेकर ऐसी किसी भी योजना को खारिज करने का फैसला किया गया है। जिसमें अटल पेंशन योजना के तहत पेंशन की राशि बढ़ाने को लेकर प्रस्ताव मिल चुका है। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री भागवत कराड ने जानकारी दिया है कि अटल पेंशन योजना के तहत पेंशन राशि में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है।

सीधा खाताधारकों पर पड़ेगा असर

भागवत कराड ने जानकारी दिया है कि अगर सरकार द्वारा पेंशन की राशि बढ़ाई जा रही है। इसका सीधा असर खाताधारकों पर पड़ने जा रहा है। उन्होंने बताया है कि पेंशन की राशि बढ़ने से खाताधारकों द्वारा करने वाले निवेश की किश्त में बढ़ोतरी होती है। ऐसे में उन पर अतिरिक्त बोझ पड़ने की उम्मीद है।

आपको जानकारी देना चाहते हैं कि सरकार की तरफ से असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे मजदूरों के लिए इस योजना की शुरुआत हो गई थी। वर्तमान में, योजना में निवेश करना है तो इसके लिए 1,000 रुपये से लेकर 5,000 रुपये तक के 5 पेंशन स्लैब दिया जा रहा है।

इसे बढ़ाकर 10 हजार रुपये करने को लेकर मांग हो चुकी है। हालांकि सरकार की तरफ से कुछ ऐसा करने से अभी माना किया गया है। नियमानुसार 18 वर्ष से 40 वर्ष की आयु का कोई भी व्यक्ति (आयकर दाताओं को छोड़कर) सरकार की इस पेंशन योजना में शामिल।होकर लाभ ले सकता है। और 60 वर्ष की आयु होने के साथ 1000 रुपये से 5000 रुपये प्रति माह पेंशन हासिल किया सकता है।

 

 

 

 



Source link