कंझावाला में लड़की की संदिग्ध मौत, सिलसिलेवार तरीके से जानें कब क्या हुआ

kanjhawala case 1672630020


नई दिल्ली: नए साल पर दिल्ली के दामन पर ऐसा दाग लगा है कि पूरी राजधानी शर्मसार हो गई। दिल्ली के कंझावला इलाके में एक लड़की का शव छत विछत हालत में मिला है। पुलिस ने इस मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनपर आरोप है कि आरोपियों ने कार से लड़की की स्कूटी में टक्कर मार दी जिससे लड़की गाड़ी के नीचे फंस गई और आरोपियों ने कई किलोमीटर तक उसको घसीटा और उसकी दर्दनाक मौत हो गई। वहीं लड़की का आज पोस्टमार्टम होगा। आज ही पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंपा जा सकता है। लेकिन पूरी घटना में अभी भी पुलिस को ये पता लगाना है कि आखिर उस लड़की की मौत इतनी संदिग्ध क्यों लग रही है। इस घटना में नए साल वाली रात को क्या हुआ, सिलसिलेवार तरीके से जानिए।

बर्बरता की सीसीटीवी फुटेज आई सामने


जिस वक्त पूरा देश नए साल के जश्न में डूबा हुआ था, पूरी दिल्ली पुलिस के आला अधिकारी सड़कों पर थे, उसी वक्त राजधानी दिल्ली के एक हिस्से में एक बेटी के साथ ऐसी बर्बरता हो रही थी, जिसे सुनकर ही आपका दिल दहल जाएगा खड़े हो जाएंगे। दिल्ली में हुई बर्बरता का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है, जिसमें साफ दिख रहा है कि आरोपी कार को आराम से घुमा रहा हैं। सीसीटीवी में आरोपी एक ही रोड पर कार को कई बार घुमाते दिख रहे हैं।

 
टक्कर के बाद गाड़ी के नीचे फंस गई लड़की
गिरफ्तार 5 आरोपी नए साल का जश्न मनाकर मुरथल से लौटकर मंगोलपुरी जा रहे थे। बताया जा रहा है कि जिस वक्त घटना हुई उस वक्त आरोपी शराब के नशे में थे। पुलिस ने गिरफ्तार सभी आरोपियों का मेडिकल टेस्ट कराया है, जिसकी रिपोर्ट आने के बाद साफ हो पाएगा कि ये नशे में थे या नहीं। घटना दिल्ली के सुल्तानपुरी-कंझावला इलाके की है। जहां आरोपियों ने स्कूटी से जा रही लड़की को टक्कर मारी। टक्कर के बाद लड़की गाड़ी के नीचे फंस गई, लेकिन आरोपियों ने कार नहीं रोकी और कई किलोमीटर तक लड़की को घसीटते हुए ले गए।

लड़की को कई किलोमीटर तक घसीटा

लेकिन सवाल दिल्ली पुलिस की थ्योरी पर ही उठ रहे हैं। चश्मदीद की मानें तो उसने सबसे पहले दिल्ली पुलिस को सूचना दी। उसने गाड़ी का पीछा किया उस दौरान तीन पुलिस की पीसीआर के पास से आरोपियों की गाड़ी गुजरी लेकिन एक ने भी गाड़ी को रोका नहीं। नए साल के मौके पर दिल्ली पुलिस का दावा था कि हर रोड पर पुलिस पिकेट होगी, जगह-जगह बैरीकेड होंगे। ऐसे में आरोपी लड़की को कई किलोमीटर तक घसीटते रहे और किसी पुलिस वाले की नज़र नहीं पड़ी। चश्मदीद के मुताबिक उसने पहली बार कॉल रात 3 बजकर 20 मिनट पर की, जब पहली बार उसने अपनी आंखों से सामने से कार को गुजरते हुए देखा।

एक ही रोड पर कई बार चक्कर लगाते रहे

चश्मदीद के मुताबिक ठीक 10 मिनट बाद आरोपियों की कार फिर से उसके सामने से गुजरी। चश्मदीद ने पुलिस को फिर बताया कि गाड़ी में बॉडी फंसी हुई है। चश्मदीद लगातार गाड़ी का पीछा कर रहा था। वो पुलिस को लगातार अपडेट दे रहा था। नए साल के जश्न में चूर पांचों आरोपी एक ही रोड पर कई बार चक्कर लगा रहे थे। आरोपियों को इस बात की जरा भी फिक्र नहीं थी कि जिस स्कूटी को वो कुछ किलोमीटर पहले टक्कर मारकर आए हैं। वो लड़की उनकी गाड़ी के नीचे फंसी हुई थी।

 
लगातार अपडेट के बाद भी पुलिस हुई लेट

पुलिस ने इस मामले में गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया है। घटना को लेकर कई तरह के सवाल भी उठ रहे हैं क्योंकि चश्मदीद लगातार पुलिस से बात कर रहा था। बावजूद इसके पीसीआर को मौके पर पहुंचने में इतना वक्त कैसे लगा। जश्न से लौट रहे युवकों ने एक लड़की को घसीटकर मार डाला। कार चलाने वाले इतने बेसुध थे कि उन्हें कुछ भी नहीं पता चला।  

मामले में सभी 5 आरोपी गिरफ्तार

इस हादसे के बाद दिल्ली के एलजी वी के सक्सेना ने कहा है कि उनका सिर शर्म से झुक गया है। दिल दहला देने वाली इस घटना के बाद दिल्ली पुलिस पर भी सवाल उठ रहे हैं। दिल्ली में हुई बर्बरता के बाद परिजनों ने लड़की के साथ अनहोनी की आशंका जताई है। परिवारवालों ने दिल्ली पुलिस के उस बयान पर भी सवाल उठाए हैं कि बिना जांच के पुलिस कैसे बोल सकती है कि लड़की के साथ किसी तरह का कोई असॉल्ट नहीं हुआ है। वहीं इस घटना के बाद दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी पर मामले की पूरी रिपोर्ट मांगी है। पुलिस ने मामले में सभी 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

Latest India News





Source link