रूस के मेदवेदेव ने ICC को धमकाया, कहा- एक ही हाइपरसोनिक मिसाइल कोर्ट को मिट्टी में मिला देगी

000 32NU9WB


हाइलाइट्स

मेदवेदेव ने कहा कि पुतिन के लिए गिरफ्तारी वारंट के ICC के फैसले के विनाशकारी नतीजे होंगे.
मेदवेदेव ने कहा कि ICC को एक बड़ी परमाणु शक्ति के खिलाफ हाथ नहीं खड़ा करना चाहिए था.
मेदवेदेव ने कहा कि ICC केवल एक दयनीय अंतरराष्ट्रीय संगठन है.

मॉस्को. रूस के पूर्व राष्ट्रपति दिमित्री मेदवेदेव ने कहा कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) के लिए गिरफ्तारी वारंट जारी करने के अंतर्राष्ट्रीय अपराध न्यायालय (International Criminal Court-ICC) के फैसले के अंतरराष्ट्रीय कानून के लिए विनाशकारी नतीजे होंगे. मौजूदा समय में रूस की सिक्योरिटी कौंसिल के उपाध्यक्ष दिमित्री मेदवेदेव (Dmitry Medvedev) ने सोमवार को कहा कि ‘उन्होंने एक परमाणु शक्ति के राष्ट्रपति पर मुकदमा चलाने का फैसला किया. यह साफ है कि उनका निर्देश यथासंभव कठोर था.’ मेदवेदेव ने टेलीग्राम पर कहा कि आईसीसी के जजों को एक बड़ी परमाणु शक्ति के खिलाफ हाथ नहीं खड़ा करना चाहिए था.

दिमित्री मेदवेदेव ने धमकी देते हुए कहा कि ‘सज्जनों, हर कोई भगवान और मिसाइलों के प्रति जवाबदेह है. यह कल्पना करना बहुत संभव है कि उत्तरी सागर में एक रूसी युद्धपोत से हाइपरसोनिक मिसाइल ने हेग में अदालत की इमारत पर हमला किया. इसे गिराया नहीं जा सकता है. अदालत केवल एक दयनीय अंतरराष्ट्रीय संगठन है.’ उन्होंने जजों से ‘आकाश को करीब से देखने’ के लिए कहा. मेदवेदेव ने कहा कि ‘अब कोई भी अंतरराष्ट्रीय संस्थानों की ओर रुख नहीं करेगा. सब आपस में समझौते कर रहे होंगे. अंतरराष्ट्रीय संबंधों की पूरी प्रणाली का पतन हो रहा है. भरोसा खत्म हो गया है.’

क्या रूसी राष्ट्रपति पुतिन होंगे गिरफ्तार? इंटरनेशनल क्रिमिनल कोर्ट में अरेस्ट वारंट जारी, वॉर क्राइम के आरोप

अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय (आईसीसी) ने शुक्रवार को यूक्रेन से बच्चों के अपहरण में कथित संलिप्तता के कारण युद्ध अपराधों के लिए रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था. आईसीसी ने एक बयान में कहा कि पुतिन ‘बच्चों के अवैध निर्वासन और यूक्रेन के कब्जे वाले क्षेत्रों से रूसी संघ में बच्चों को अवैध रूप से ले जाने संबंधी युद्ध अपराधों के लिए कथित रूप से जिम्मेदार हैं.’ इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय ने रूसी राष्ट्रपति के कार्यालय में बाल अधिकार मामलों की आयुक्त मारिया अलेक्सेयेवना लवोवा-बेलोवा के खिलाफ भी ऐसे ही आरोपों के सिलसिले में गिरफ्तारी वारंट जारी किया है. अदालत के अध्यक्ष पियोटर हॉफमांस्की ने एक वीडियो बयान में कहा कि आईसीसी के न्यायाधीशों ने वारंट जारी किए हैं, लेकिन उन्हें तामील करना अंतरराष्ट्रीय समुदाय पर निर्भर करेगा.

Tags: ICC, Nuclear weapon, Russia, Vladimir Putin



Source link