हिंडनबर्ग रिपोर्ट पर विपक्ष की मांग, सेबी चीफ-RBI अधिकारियों को किया जाए समन

newproject 2023 02 10t141829 108 1676018912


विपक्ष के सांसदों ने मांग की है कि गौतम अडानी मामले में सेबी चीफ और आरबीआई के शीर्ष अधिकारियों को स्टैंडिंग कमेटी के सामने पेश होने के लिए बुलाना चाहिए।

India

oi-Ankur Singh

loading

Google Oneindia News
loading
parliament

विपक्ष
के
नेताओं
ने
बुधवार
को
मांग
की
है
कि
स्टैंडिंग
कमेटी
फॉर
फाइनेंस
को
सेबी
चीफ
को
समन
करना
चाहिए।
विपक्ष
ने
मांग
की
है
कि
हिंडनबर्ग
रिपोर्ट
मामले
में
जो
बातें
सामने
आई
हैं
उसको
लेकर
सेबी
चीफ
और
रिजर्व
बैंक
के
शीर्ष
अधिकारियों
को
तलब
करना
चाहिए।
बता
दें
कि
हिंडनबर्ग
रिपोर्ट
में
उद्योगपति
गौतम
अडानी
पर
कई
तरह
के
फर्जीवाड़े
के
आरोप
लगाए
गए
थे,
जिसपर
विपक्ष
लगातार
सरकार
को
घेरने
की
कोशि
कर
रहा
है।
हालांकि
अडानी
की
ओर
से
हिंडनबर्ग
की
रिपोर्ट
को
सिरे
से
खारिज
कर
दिया
गया
है।

जिन
सांसदों
और
पूर्व
मंत्रियों
ने
सेबी
चीफ
और
आरबीआई
के
शीर्ष
अधिकारियों
को
समन
भेजने
की
मांग
की
है
उसमे
लोकसभा
सांसद
और
कांग्रेस
नेता
मनीष
तिवारी,
उनकी
पार्टी
के
दूसरे
सहयोगी
गौरव
गोगोई,
प्रमोद
तिवारी,
पिनाकी
मिश्रा,
बीजेडी
के
सांसद
अमर
पटनायक,
टीएमसी
के
सांसद
सौगत
राय
शामिल
हैं।
इसके
अलावा
कमेटी
के
चेयरमैन
जयंत
सिन्हा,
पूर्व
कानून
मंत्री
रविशंकर
प्रसाद,
सुशील
मोदी,
एसएस
आहलुवालिया
ने
इस
मांग
का
विरोध
किया
है।
सूत्रों
ने
इस
बात
की
पुष्टि
की
है
कि
सत्ताधारी
दल
के
सांसदों
का
कहना
है
कि
चूंकि
यह
मामला
कोर्ट
में
है
लिहाजा
इसपर
पैनल
में
चर्चा
नहीं
होनी
चाहिए।

इसे भी पढ़ें- National Commission for Men: 'आदमियों को शादी के बाद घरेलू हिंसा से बचाने के लिए बने बने राष्ट्रीय पुरुष आयोग'इसे
भी
पढ़ें-
National
Commission
for
Men:
‘आदमियों
को
शादी
के
बाद
घरेलू
हिंसा
से
बचाने
के
लिए
बने
बने
राष्ट्रीय
पुरुष
आयोग’

विपक्ष
के
सांसदों
ने
मांग
की
है
कि
सेबी
और
आरबीआई
के
अधिकारियों
को
समन
करना
जरूरी
है
क्योंकि
यह
देश
के
हित
से
जुड़ा
मामला
है,
लिहाजा
इस
बात
को
सुनिश्चित
करना
जरूरी
है
कि
ये
संस्थाएं
जरूरी
कदम
इस
दिशा
में
उठा
रहे
हैं
या
नहीं।
विपक्ष
के
सांसदों
का
तर्क
है
कि
पैनल
किसी
भी
जिम्मेदार
अधिकारी
को
तलब
कर
सकता
है,
उन्हें
फाइनेंस
कमेटी
तलब
कर
सकती
है।
पैनल
के
चेयरमैन
ने
सभी
सांसदों
से
अपनी
मांग
लिखित
में
देने
को
कहा
है।
गौर
करने
वाली
बात
है
कि
हिंडनबर्ग
रिपोर्ट
सामने
आने
के
बाद
राहुल
गांधी
ने
पीएम
मोदी
पर
गौतम
अडानी
को
लेकर
काफी
तीखे
हमले
किए
थे।
उन्होंने
आरोप
लगाया
था
कि
गौतम
अडानी
के
लिए
नियमों
में
बदलाव
किया
गया
था।

  • loading
    Mandal Politics: क्या विपक्ष ओबीसी को भाजपा से तोड़ पाएगा?
  • loading
    Congress Session: कांग्रेस की डोर से विपक्ष को बांधने की कवायद
  • loading
    अडानी ग्रुप को लेकर विपक्ष का बड़ा आरोप, क्या FPO के लिए केंद्रीय मंत्री ने किया फोन?
  • loading
    इंदौर के बाद सागर में भी जिलाध्यक्ष का विरोध, सड़क पर उतरे कांग्रेसी, पुतला जलाया
  • loading
    Bhilai Nigam में भाजपा पार्षदों का नेतृत्व करेंगे भोजराज सिन्हा, चुनावी साल में निगमों में हो रही तैनाती
  • loading
    Remote voting machine:क्यों विपक्षी पार्टियां RVM का विरोध कर रही हैं ? जानिए
  • loading
    अखिलेश और वरुण गांधी को दी नसीहत, ‘BJP से अकेले लड़ना किसी के बस का नहीं’ – OP Rajbhar
  • loading
    2024 में राहुल या केजरीवाल को अकेले पीएम मोदी के खिलाफ उतारा तो…..ओवैसी ने विपक्ष से कह दी बड़ी बात
  • loading
    Madhya Pradesh Assembly: विपक्ष ने सौंपा अविश्वास प्रस्ताव, आरोपों का मुकाबला करने सत्ता पक्ष ने बनाई रणनीति
  • loading
    बीजेपी सांसद ने पेश किया नागरिक संहिता विधयेक, विपक्ष ने जताया विरोध
  • loading
    ‘मैं डरा नहीं हूं, इसका जवाब देंगे, यह एक साजिश है’, ED के समन पर बोले हेमंत सोरेन
  • loading
    बिहार के जननायक की प्रतिमा लगाने पर सागर में विवाद, समाजवादी चिंतक रघु ठाकुर का खुला विरोध

English summary

Opposition MP’s demand to summon Sebi Chief and RBI officials over Hindenburg report.



Source link