पुतिन के कंधे पर सवार किम ने US को दिखाईं आंखें, टेंशन में साउथ कोरिया-जापान

Russia Summer Offensive 34961 2024 07 ce67676d31678c66980b0d8b09495718 scaled


सोल. उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन कब क्या कर जाएं कोई नहीं कह सकता. पुतिन के भरोसे पर सवार इस तानाशाह ने अब एकसाथ तीन देशों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. दरअसल उत्तर कोरिया ने सोमवार तड़के दक्षिण कोरिया पर दो बैलिस्टिक मिसाइलें दाग दीं. साउथ कोरियन सेना ने यह जानकारी दी है, जिससे इलाके में तनाब बढ़ने की आशंका है.

दक्षिण कोरिया, अमेरिका और जापान के अभी-अभी संयुक्त सैन्य अभ्यास का पूरा किया है. इसे लेकर तानाशाह किम जोंग पहले ही नाराजगी जता चुके हैं. ऐसे में इस मिसाइल अटैक को इसी सैन्य अभ्यास के खिलाफ चेतावनी के रूप में दखा जा रहा है. पुतिन के साथ हुए हालिया समझौते के बाद किम अलग ही तेवर में तेवर में दिख रहे हैं.

पुतिन और किम में क्या हुई डील?
उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के पिछले महीने प्योंगयांग में एक शिखर सम्मेलन के दौरान ‘व्यापक रणनीतिक साझेदारी’ संधि पर हस्ताक्षर किए गए थे. इस समझौते में यह वादा भी शामिल है कि अगर हमला होता है तो दोनों देश एक-दूसरे की मदद करेंगे. इसके बाद से प्योंगयांग और मॉस्को के बीच बढ़ते सैन्य सहयोग को लेकर चिंता जताई जाने लगी थी. इस बीच किम के इस ताजा मिसाइल अटैक ने फिक्र की नई लकीरें खींच दी हैं.

नॉर्थ कोरिया ने सुबह-सुबह दागी मिसाइलें
उधर दक्षिण कोरिया के संयुक्त चीफ ऑफ स्टाफ (जेसीएस) ने कहा कि दक्षिण ह्वांगहे प्रांत के जंगयोन क्षेत्र से सोमवार सुबह करीब 5:05 बजे उत्तर-पूर्वी दिशा में एक बैलिस्टिक मिसाइल दागी गई. इसके तुरंत बाद सुबह करीब 5:15 बजे एक और बैलिस्टिक मिसाइल दागी गई. योनहाप समाचार एजेंसी ने इस बारे में और जानकारी नहीं दी कि मिसाइलें कितनी दूर तक गई. जेसीएस ने मीडिया को बताया, ‘हमारी सेना उत्तर कोरियाई बैलिस्टिक मिसाइल डेटा को अमेरिका और जापानी अधिकारियों के साथ शेयर करेगी, हम हालात पर करीबी नजर बनाए हुए हैं.’

US-जापान-साउथ कोरिया के सैन्य अभ्यास से नाराज किम
इससे पहले रविवार को उत्तर कोरिया के विदेश मंत्रालय ने दक्षिण कोरिया, अमेरिका और जापान के सैन्य अभ्यास की निंदा करते हुए कहा था कि देश इसके खिलाफ ‘आक्रामक और भारी’ जवाबी कार्रवाई करेगा. दक्षिण कोरिया, अमेरिका और जापान का संयुक्त अभ्यास शनिवार को समाप्त हुआ, इसमें लड़ाकू जेट और युद्धपोत शामिल थे. एक अमेरिकी विमानवाहक पोत भी शामिल था.

इस सैन्य अभ्यास पर उत्तर कोरिया पहले ही नाराजगी जताते हुए चेतावनी दे चुका है. उसने बुधवार को भी पूर्वी सागर की तरफ बैलिस्टिक मिसाइल दागे थे. उत्तर कोरिया ने दावा किया है कि उसने कई मिसाइलों का सफलतापूर्वक टेस्ट किया है, लेकिन दक्षिण कोरिया ने इस दावे को ‘धोखा’ बताते हुए खारिज कर दिया है और कहा कि ये लॉन्चिंग फेल हो गई, क्योंकि मिसाइल हवा में ही फट गई. (IAS इनपुट के साथ)

Tags: Kim Jong Un, North Korea, Vladimir Putin



Source link