टिकट कटते ही साध्वी प्रज्ञा ने उठा लिया हथौड़ा, हाथ जोड़ता रहा पुलिसवाला; देखें VIDEO – India TV Hindi

pragya 1709697256


प्रज्ञा ठाकुर ने शराब...- India TV Hindi

Image Source : SOCIAL MEDIA
प्रज्ञा ठाकुर ने शराब की दुकान का ताला तोड़ा

भोपाल से भाजपा की लोकसभा सदस्य प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में अपनी पार्टी के विधायक सुदेश राय पर अवैध रूप से शराब की दुकान चलाने का आरोप लगाया और महिलाओं व लड़कियों की सुरक्षा पर चिंता व्यक्त की है। उन्होंने राय की विधानसभा सदस्यता खत्म करने की मांग भी की। जब मीडियाकर्मियों ने इस संबंध में राय से संपर्क कर प्रतिक्रिया मांगी तो उन्होंने कहा कि वे खुद ठाकुर के आरोपों की पड़ताल करें। ठाकुर ने सोमवार की रात कहा कि वह विकास कार्यों की शुरुआत करने के लिए अपने निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले इलाकों के दौरे पर थीं, तभी खजुरिया कला में कुछ लड़कियां उनके पास आईं और शिकायत की कि उनके स्कूल के सामने शराब की दुकान चल रही है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो

प्रज्ञा ठाकुर को एक कमरे का ताला तोड़ते हुए दिखाने वाला वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया। एक वीडियो में, लोकसभा सदस्य पहले हाथ में एक पत्थर पकड़े हुए कमरे का ताला तोड़ने की धमकी देती नजर आ रही हैं, तभी आसपास लड़कियां और लोग जमा हो गए। एक पुलिसकर्मी उनसे ताला न तोड़ने का आग्रह करता नजर आ रहा है। बाद में, भाजपा सांसद को कमरे में हथौड़े से मारते हुए देखा जाता है जबकि पुलिसकर्मी उनसे ऐसा न करने के लिए हाथ जोड़कर आग्रह करता रहता है। जोरदार जयकारे के बीच ठाकुर को दरवाजा खोलते हुए देखा जाता है। वीडियो में कमरे में बड़ी संख्या में शराब की बोतलें रखी हुई दिखाई दे रही हैं। बाद में कुछ लोग ठाकुर की मौजूदगी में बोतलें खोलकर शराब फेंक देते हैं।

ठाकुर को यह कहते हुए सुना जाता है कि किसी को भी उसके साथ आई लड़कियों को धमकी नहीं देनी चाहिए। एक अधिकारी को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि वह सांसद की चिंताओं को अपने वरिष्ठों तक पहुंचाएंगे। लेकिन भाजपा नेता नाराज हो गईं और उन्होंने अधिकारियों से स्कूल के सामने स्थित शराब की दुकान की अनुमति से संबंधित कागजात पेश करने को कहा। ठाकुर को यह दावा करते हुए सुना गया कि यह शराब की दुकान बिना लाइसेंस के चलाई जा रही है और स्कूलों के सामने ऐसी दुकानें संचालित करना अवैध है।

टिकट कटने के बाद सांसद के तीखे तेवर

भाजपा ने ठाकुर को आगामी लोकसभा चुनाव के लिए भोपाल से दोबारा उम्मीदवार नहीं बनाया है। भाजपा नेता ने कहा, “लड़कियां दुखी थीं और उनकी आंखों में आंसू थे। उन्होंने शिकायत की कि लोग शराब की दुकान पर इकट्ठा होते हैं, उन पर टिप्पणी करते हैं। उन्होंने मुझे बताया कि वे सुरक्षित नहीं हैं और उनके साथ कुछ भी हो सकता है। कुछ महिलाओं ने कहा कि लोग शराब पीकर उनके घरों में घुस जाते हैं।” उन्होंने दावा किया कि वहां मौजूद पुलिस उप-निरीक्षक ने कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है। ठाकुर ने कहा, “लोगों और अधिकारियों ने बताया कि खजुरिया कला बंगला में पाया गया अवैध शराब का ठिकाना भारतीय जनता पार्टी के विधायक सुदेश राय चलाते हैं। मुझे शर्म आ रही है। मैं पार्टी से मांग करती हूं कि इस तरह के कार्य में शामिल उनके जैसे व्यक्ति को बर्खास्त किया जाना चाहिए।’’

भाजपा सांसद ने यह भी कहा कि उन्होंने अधिकारियों से आबकारी विभाग के संबंधित अधिकारियों को निलंबित करने के लिए कहा है। उन्होंने दावा किया कि यह अवैध शराब दुकान है क्योंकि किसी स्कूल के सामने ऐसी दुकान के लिए लाइसेंस नहीं दिया जा सकता। प्रज्ञा ठाकुर ने कहा, “यह संसद सदस्य का ‘आदर्श ग्राम’ है और यहां शराब की दुकान नहीं खोली जा सकती।” उन्होंने दावा किया, “लगभग एक साल पहले भी इसी तरह की शिकायत आई थीं और तब जिलाधिकारी ने मुझे बताया था कि दुकान बंद हो गई है। लेकिन, जब मैं इस बार वहां गई तो लड़कियों ने फिर से शिकायत की। इसका मतलब है कि पुलिस और आबकारी विभाग आपस में मिले हुए हैं।” ठाकुर ने दावा किया कि वह लड़कियों के साथ दुकान में घुस गईं और वहां भारी मात्रा में शराब पाई और उसमें से कुछ को फेंक दिया, इसका एक वीडियो भी शूट किया गया है। उन्होंने दावा किया कि वहां मौजूद पुलिस अधिकारियों ने प्रयास किया कि शराब नष्ट न हो और इसे बचाया जाए।

बीजेपी विधायक ने क्या कहा?

ठाकुर ने कहा, “मुझे राय के प्रति कोई शिकायत नहीं है। अगर वह अवैध गतिविधियों में शामिल हैं, तो यह एक बड़ा अपराध है। अगर कोई असामाजिक तत्व शराब पीकर किसी लड़की के साथ कुछ करता है तो मुझे लगता है कि इसकी जिम्मेदारी मेरी होगी।’’ ठाकुर ने कहा, ”मैंने ऐसी चीजें कभी बर्दाश्त नहीं की हैं और न ही करूंगी।” राय ने कहा कि मीडिया को खुद सच्चाई का पता लगाना चाहिए। राय ने कहा, “आप शराब की दुकान का संचालन कराने वाले जिलाधिकारी से जानकारी ले सकते हैं? मैं कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता क्योंकि वह एक साध्वी हैं। वह कोई भी आरोप लगा सकती हैं… आपको (मीडिया को) जांच करनी चाहिए, मैं झूठ बोल सकता हूं।” (भाषा)

यह भी पढ़ें-





Source link