भारत के आसमान से अमेरिकी बम वर्षक विमानों ने चीन को ललकारा! एयरो इंडिया शो 2023

16763733721082589 india aero show 61044


अमेरिकी बम वर्षक बी1-बी (प्रतीकात्मक फोटो)- India TV Hindi

Image Source : AP
अमेरिकी बम वर्षक बी1-बी (प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली। बेंगलुरु में चल रहे एयरो इंडिया शो के मौके पर अमेरिका के सबसे घातक माने जाने वाले बम वर्षक ‘बी-1बी लांसर’ विमानों ने भारत के आसमान से चीन को अपनी ताकत का एहसास कराया है। चीन के जासूसी गुब्बारा मामले में अमेरिका से चल रहे ड्रैगन के तनाव के बीच बेंगलुरु का यह एयरो इंडिया शो-2023 खास संदेश देता दिख रहा है। अमेरिकी वायुसेना ने ‘बी-1बी लांसर’ बमवर्षक विमानों को बेंगलुरु के येलहांका वायुसेना अड्डे पर ‘एयरो इंडिया 2023’ में शामिल किया गया। इनकी ताकत को देखकर चीन चिंता में पड़ गया है। इस शो में 98 देशों की 800 से अधिक कंपनियां और प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे हैं।

पूरी दुनिया में मिशन को अंजाम दे सकता है अमेरिका बॉम्बर


बी-1बी लांसर अमेरिका स्थित अपने अड्डों और अग्रिम मोर्चों से विश्वभर में मिशन को अंजाम देने में सक्षम है। इसकी खासियत यह है कि ये निर्देशित और गैर-निर्देशित, दोनों तरह के सबसे बड़े पारंपरिक आयुध ले जाने में सक्षम है। इसे अमेरिका की लंबी दूरी के हमलावर बल (वायुसेना) का मेरुदंड माना जाता है। यूक्रेन में संघर्ष की पृष्ठभूमि में भारत और अमेरिका के अपनी रक्षा एवं सुरक्षा साझेदारी प्रगाढ़ करने के नये संकल्प के बीच विश्व में सर्वाधिक घातक माने जाने वाले दो लड़ाकू विमान यहां आये हैं। अमेरिकी वायुसेना के सहायक उप अवर सचिव मेजर जनरल जूलियन सी चीटर ने कहा, ‘‘बी-1 वरिष्ठ नेताओं और लड़ाकू कमांडरों को विकल्प उपलब्ध कराता है। क्षेत्र में हमारे साझेदारों के साथ व्यापक समन्वय व्यापक अंतरनिर्भरता की दिशा में एक सकारात्मक कदम है।

5 वीं पीढ़ी के स्टेल्थ फाइटर जेट ने भरी भीषण गर्जना

बेंगलुरु के आसमान में अमेरिका से आए 5वीं पीढ़ी के स्टेल्थ फाइटर जेट ने जब बेंगलुरु एयरबेस पर उड़ान भरी तो इनकी ताकत देख हर कोई हैरान रह गया। इस विमान की सबसे बड़ी खासियत यह है कि ये रेडार की पकड़ में आसानी से नहीं आते। ऐसे में कहीं भी जाकर आसानी से यह मिशन को अंजाम दे सकते हैं। अधिकारियों ने बताया कि कई अमेरिकी लड़ाकू विमान पहले से एयरो इंडिया शो में भाग ले रहे हैं, जो दोनों देशों के बीच संबंधों की मजबूती को प्रदर्शित करता है। बी-1 के अलावा, एयरो इंडिया में भाग ले रहे अमेरिकी वायुसेना के विमानों में पांचवीं पीढ़ी के नये लड़ाकू विमान–सुपरसोनिक, मल्टीरोल एफ-35ए लाइटनिंग2 और एफ-35ए ज्वाइंट स्ट्राइक फाइटर भी शामिल हैं।

यह भी पढ़ें…

“नौ दिन में मौत चली सिर्फ अढ़ाई कोस”…और जिंदगी निकल गई मीलों आगे, तुर्की भूकंप की हैरतअंगेज कहानी

तो क्या चीन के गुब्बारे ने सचमुच निकाल दी है जासूसी की हवा, ड्रैगन की खुलती जा रही है पोल

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन





Source link